January 21, 2020
  • 6:55 PM ड्रॉप -रो बाल प्रतियोगिता में प्रथम स्थान प्राप्त कर पारुल कश्यप ने जीता गोल्ड मेडल
  • 6:48 PM रायगढ़: भारी मात्रा में बारूद और डेटोनेटर विस्फोटकों से लदी वाहन बरामद ड्राइवर सहित दो लोग हिरासत में
  • 5:46 PM लो फिर शुरू हुवा सड़क मरम्मत इस बार भी गुणवत्ता की अनदेखी/बगैर डस्ट हटाए रिपेयर लोगो में आक्रोश  
  • 3:30 PM संत रामपाल जी महाराज की लोकप्रियता जशपुर पत्थलगांव में भी,प्रत्येक माह के अंतिम मंगलवार को पत्थलगांव में  संत रामपाल जी महाराज जी की “आध्यात्मिक क्रांति”  उमड़ रही  
  • 2:47 PM शालेय शिक्षकों ने किया आगामी बजट हेतु रोचक मनुहार:दिलाया “किरिया के सुरता” और छत्तीसगढ़िया मुख्यमंत्री से किया छत्तीसगढ़ी में गुहार

Sharing is caring!

नगर पंचायत पत्थलगांव में पीआईसी का गठन,किसे कौन सा विभाग मिला,देखिए पूरी सूची

हरित छत्तीसगढ़ संजय तिवारी/विवेक तिवारी पत्थलगांव// दस दिन पूर्व विधिवत पदारोहण करते हुए क्रियाशील हुई नगर पंचायत में प्रेसीडेंट इन काउन्सिल का नव निर्वाचित नगर पंचायत अध्यक्ष के आदेशानुसार गठन कर लिया गया है  पीआईसी में श्यामनारायण गुप्ता,अजय बंसल,रेखामुनी भगत पुनीत डहरिया व सुनील अग्रवाल को शामिल किया गया हैं। विदित हो की अध्यक्ष उपाध्यक्ष चुनाव के बाद से ही पीआईसी गठन को लेकर आम जनमानस में अभी तक कौतुहल का विषय बना हुआ था। नवनिर्वाचित  नगर पंचायत अध्यक्ष सुचिता एक्का की सहमति से सम्पन्न हुई इस प्रक्रिया के अन्तर्गत  निर्वाचित होकर परिषद में पहुंचे श्यामनारायण गुप्ता को शिक्षा व बाल विकास ,अजय बंसल को लोक निर्माण विभाग व जल व विद्युत विभाग एव रेखामुनी भगत को विधि व सामान्य प्रशासन , पुनीत डहरिया को राजस्व एव बाजार एव सुनील अग्रवाल को खाद्य नागरिक आपूर्ति स्वास्थ्य एव अस्पताल की कमान सौंपी गई है। उल्लेखनीय है कि इस बार 15 वार्डों वाली नगर पंचायत  में जहां कांग्रेसी उम्मीदवारों को 5 और भाजपाई प्रत्याशियों को 9 वार्डों से निर्वाचित होने में कामयाबी हासिल हुई है वहीं निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर चुनकर आने वाले पार्षद की संख्या 1 है तथा ऐसे में सभी को प्रेसीडेंट इन काउन्सिल में जिम्मेदारी दिया जाना संभव नहीं है। वही विपक्षी पार्षदों का कहना था की पीआईसी गठन में सभी पार्टियों के बीच सामंजस्य स्थापित करते हुवे  बनाना था उनका कहना है की महिला अध्यक्ष होने के बावजूद भी पीआईसी में महिलाओं को ज्यादा तवज्जो नही दी गई हैं।

काम करने वाले पार्षदों को पीआईसी में जगह: पीआईसी में जल, स्वास्थ्य, खाद्य, सामान्य प्रशासन, शिक्षा, पीडब्ल्यूडी, राजस्व एवं बाजार सहित अन्य विभागों की जिम्मेदारी दी गयी है । जो उपाध्यक्ष होते हैं, वे शिक्षा विभाग के पदेन सभापति होते हैं। इस लिहाज से अन्य पार्षद को मेंबर बनने का मौका मिला है। नगर पंचायत अध्यक्ष  सुचिता एक्का  ने बताया कि  पीआईसी  गठन में उन पार्षदों को शामिल किया गया है  जो वास्तव में फील्ड में काम कर सकें। घर बैठे पार्षदों के लिए पीआईसी में कोई जगह नहीं है।harit

Sharing is caring!

haritwnb

RELATED ARTICLES
LEAVE A COMMENT