February 17, 2020
Breaking News

अब होमगार्ड सरकार से नाराज, आंदोलन की चेतावनी

प्रदेश में 9000 से ज्यादा होमगार्ड के जवान कार्यरत हैं, जिन्हें सुविधाएं नहीं मिल रही है होमगार्ड कर्मी अपने वेतन विसंगति को लेकर परेशान हैं .उनका कहना है कि वर्षों से कम वेतन में होमगार्ड ड्यूटी कर रहे हैं. कम भत्ता, आवास, अवकाश और अन्य सुविधाओं के बीच और जरूरी सुविधाओं से वंचित होमगार्ड आजादी से लेकर अब तक शारीरिक, मानसिक और आर्थिक रूप से गुलामों की जिंदगी जी रहे हैं, जिस कारण छत्तीसगढ़ के होमगार्ड कर्मी मध्य प्रदेश की तर्ज में छत्तीसगढ़ में भी 20000 प्रतिमाह वेतन चाहते हैं. जबकि उन्हें अभी मात्र 13 हजार ही दिया जा रहा है इसके साथ 2016 में वेतन वृद्धि के समय एरिया की राशि भी अब तक उन्हें नहीं दी गई है. जिसे लेकर अब होमगार्ड आंदोलन के मूड में हैं .आज होमगार्ड कर्मियों के संघ ने कांग्रेस भवन में मंत्री मोहम्मद अकबर(Minister Mohammad Akbar) से मुलाकात की. होमगार्ड कर्मियों को इस बात की उम्मीद थी कि  नई सरकार उनको निवेदन विधि के साथ सुविधाओं का तोहफा देगी जो अब तक नहीं हो पाया है और इसीलिए इस बजट में अपनी मांगों को पूरा होने की उम्मीद को लेकर होमगार्ड लगातार मंत्रियों के बंगले के चक्कर काट रहे है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *