August 3, 2021
Breaking News

जाने नरेन्द्र मोदी के हाथ मे बंधे कालधागे का सच

जाने नरेन्द्र मोदी के हाथ मे बंधे कालधागे का सच
हरितछत्तीसगढ़ डिजिटल रिपोर्ट। दिनोदिन प्रधामनंत्री नरेंद्र मोदी की बढ़ती लोकप्रियता को लेकर लोगो मे तरह तरह की चर्चाएं वयाप्त है इन्ही चर्चाओं में उनके हाथ मे बंधा काला धागा को लेकर भी तरह तरह की चर्चाएं हो रही है कोई इस धागे को सम्मोहन करने वाला करिश्माई धागा बता रहा है तो कोई मोदी के सकारात्मक ऊर्जा का मुख्य कारण बता रहे है। नरेंद्र मोदी की कलाई में बंधे इस काले धागे को आप अक्सर उस समय देख सकते है जब वे भाषण देते वक्त अपने हाथों को उठाये वेसे इस काले धागे को लेकर रहस्य बरकरार है धागे में ही उनके करिश्माई व्यक्तित्व और मोदी मैजिक का रहस्य छिपा हुआ है। अब तो मोदी के करीबी नेता और विरोधी भी इस बात को स्वीकारते हैं। रही बात काले धागे की तो धार्मिक शास्त्रों के अनुसार ऐसा माना जाता है. कि काला धागा बांधने से इंसान बुरी नजर और बुरे दोषो से बच जाता है. यानि अगर किसी इंसान के हाथ या गले पर काला धागा बंधा हुआ हो तो यह नजर लगाने वाले की दृष्टि को नष्ट कर देता है. जिससे नजर लगने का भी कोई डर नहीं रहता. बता दे कि जो लोग गले या हाथ में काला धागा बांधते है, उनके अंदर सकारात्मक ऊर्जा का प्रभाव हमेशा बना रहता है. इसके इलावा काला धागा बाँधने का एक वैज्ञानिक कारण भी है. विज्ञानं के अनुसार ऐसा माना गया है, कि काला रंग ऊर्जा को अवशोषित कर लेता है. ऐसे में काला धागा बुरी नजर और हवाओ को भी अवशोषित कर देता है. जिससे हमारे शरीर पर बुरे प्रभावों का असर नहीं होता. यानि यह हमारे लिए एक सुरक्षा कवच का काम करता है. रही बात प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हाथ मे बंधे काले धागे की तो बताया जाता है कि यह काला धागा उत्तर गुजरात के मेहसाणा जिले में स्थित टिंबा गांव के मां दुर्गा मंदिर का ‘प्रसाद’ है। मोदी इस मंदिर में मुख्यमंत्री थे तब भी आते थे और प्रधानमंत्री बनने के बाद भी आते हैं। इस मंदिर के प्रति मोदी की गहरी आस्था है।बताया जाता है कि इस मंदिर के पुजारी मंत्रजाप करके काला धागा मोदी को भेजते हैं। जिसे वे अपने हाथों में बांधते है। इस प्रसादरूपी कालधागे के प्रति अब भाजपा कार्यकर्ताओं की भी आस्था बढ़ गयी है कई कार्यकर्ता भी अब अपने हाथ में इस मंदिर का काला धागा बांधने लगे हैं। लोगों का मानना है कि यह काला धागा देवी की शक्ति का प्रतीक है, जो मोदी को हमेशा विजयी बनाती है। कहा तो यह भी जाता है कि मोदी जब हाथ ऊंचा करके भाषण देते हैं तब लोग हाथ में बंधे काले धागे को देखकर सम्मोहित हो जाते हैं और वोट भाजपा उम्मीदवार की झोली में आ जाते हैं। बहरहाल मोदी के हाथ में बंधे इस काले धागे का रहस्य अभी भी बरकरार है। वैसे अक्सर बुरी नजर से बचने के लिए काली चीजों का ही इस्तेमाल किया जाता है. जैसे काला धागा बांधना, काला टिका लगाना और काला तिल लगाना आदि सब किया जाता है. बता दे कि कोई भी बड़ा व्यक्ति हो या कोई छोटा सा बच्चा हर किसी को बुरी नजर से बचाने के लिए काला धागा ही बंधवाया जाता है.     

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *