Sharing is caring!

बिहार के बेगूसराय जिले में कार्तिक पूर्ण‍िमा मेले में स्नान के दौरान भगदड़ मचने से 3 लोगों की मौत हो गई है. इस हाइसे में 10 लोग घायल भी हो गए. कार्तिक पूर्णिमापर्व के दौरान बड़ा हादसा हो गया। शनिवार की सुबह स्नान-पूजा कर लौट रहे लोगों में भगदड़ मचने से 3 लोगों की मौत हो गई। मरने वालों में बुजुर्ग महिलाएं हैं। बेगूसराय के‍ सिमरिया घाट पर गंगा स्नान करने के लिए जमा हुए थे. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने हादसे में मरने वालों के प्रति गहरा दुख व्यक्त किया है.सीएम नीतीश कुमार ने मृतकों के परिजनों के लिए 4 लाख रुपये मुआवजे की घोषणा की है.जिले के आलाप्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक हादसे के लिए पुलिस अधिकारी जिम्मेदार हैं क्योंकि लाखों की भीड़ जमा होने के बावजूद वहां सुरक्षा की कोई व्यवस्था नहीं की गई थी। यह हादसा गंगा पर बने रोड कम रेल ब्रिज यानी राजेन्द्र पुल के काफी नजदीक हुआ है। इसके अलावा उस स्थान पर अर्धकुंभ चल रहा था। इस वजह से गंगा घाट पर श्रद्धालुओं की संख्या ज्यादा थी। मरने वाले और घायलों में अधिकांश महिलाएं हैं। यह स्थान राजधानी पटना से करीब सवा सौ किलोमीटर दूर है। एबीपी के मुताबिक कुछ लोगों ने शवों को गंगा में फेंके जाने का भी आरोप लगाया है। प्रशासनिक अधिकारी मौके पर पहुंच गए हैं और घायलों का नजदीकी अस्पताल में इलाज चल रहा है। राज्य सरकार ने मृतकों के परिजनों को 4-4 लाख रुपये के मुआवजे की घोषणा की है।

Sharing is caring!