April 7, 2020
Breaking News

पूरे देश मे जनता कर्फ्यू, आपातकालीन सेवाएं छोड़कर लगभग सभी छोटे बड़े प्रतिष्ठान बंद, ऐसे में शराब की दुकानों का संचालन लोगों को चोंकाने वाली

जनता कर्फ्यू के दौरान जहां सभी व्यावसायिक प्रतिष्ठान बंद रही, वहीं सरकारी देशी व विदेशी शराब दुकाने रही संचालित, लोग पूछ रहे क्या इन पर आह्वान का कोई असर नही

हरितछत्तीसगढ़-विवेक तिवारी

पत्थलगांव। भारत में आये दिन कोरोना वायरस के मामलों की संख्या लगातार बढ़ रही है। मौजुदा हालात को देखते हुए आज 22 मार्च को सरकार ने देशभर में जनता कर्फ्यू लगाने का ऐलान किया है। ऐसे में आपातकालीन सेवाएं छोड़कर बाकी सभी सेवाएं बंद थी। वहीं ऐसे हालातों में लोगों में सबसे बड़ा सवाल यह उठ रहा है कि एक ओर आज सब्जी मण्डियां भी बंद थी, ऐसी परस्थिति में भी सरकारी देशी व विदेशी शराब दुकाने आज के दिन संचालित क्यों थी। बताया जा रहा है कि लोग दुकान खुलने के बाद से ही शराब लेने पहुंच रहे थे।
गौरतलब हो कि कोरोना के बढ़ते मामले को रोकने के लिए सरकार ने जनता कर्फ्यू लगाने का कदम उठाया है। कोरोना वायरस के कारण एक तरफ पूरा देश हाई अलर्ट पर है। प्रशासन हर स्तर पर भीड़भाड़ वाले ईलाके जहां लागों की आवाजाही अधिक होती है बंद कराये गये हैं। ऐसे संवेदनशील मामले सामने आने के बाद स्थानीय लोगों का कहना है कि जब देश कोरोना के कहर से सदमें में है और संक्रमण पर रोक लगाने हेतु कई सार्वजनिक स्थलों पर पाबंदी लगा दी गई है। फिर भी ऐसी स्थ्तिि में भी आज के दिन शराब दुकानों का संचालन करना उनकी समझ से परे है, क्या इन पर इस कहर का कोई भी असर नही है। लगभग सभी छोटे बड़े प्रतिष्ठान स्वेच्छा से बंद किये गये हैं और ऐसे में शराब की दुकानों का खुलना लोगों को चोंकाने वाली है। इस मामले पर जानकारी देते हुये पत्थलगांव तहसीलदार महेश शर्मा ने बताया कि आज के दिन दुकाने बंद करने संबंधी कोई भी आदेश नही मिला है। आदेश के आधार पर कल यानी 23 मार्च से तीन दिन शराब दुकाने बंद करने का आदेश प्राप्त हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *