November 29, 2021
Breaking News

पीडब्ल्युडी ईई को दिया गया जबरन सेवानिव्रती मंत्री मूणत के प्रवास से पहले हुयी जशपुर में यह कारवाई

पत्थलगांव लोक निर्माण इइ को मिली जबरन सेवानिविृत्ति मूणत का प्रवास से पहले अधिकारियों में मची खलबली
हरित छत्तीसगढ़ विवेक /संजय तिवारी पत्थलगांव

पत्थलगांव में थूक पालिस मरम्मत के बाद नागरिको का विरोध का खबर हरित छत्तीसगढ़ में प्रमुखता से प्रकाशित होने के बाद खबर का असर माना जा रहा है की पत्थलगांव कार्यपालन अभियंता को सेवानिव्रती दे दी गयी है बहरहाल इस खबर के बाद से ही लोकनिर्माण विभाग में खलबली मची हुयी है विदित हो की 8 अक्टूबर  को लोक निर्माण मंत्री जशपुर जिले के प्रवास पर है जिसके आने की खबर से ही जिले समेत प्रभावित क्षेत्रो में मरम्मत कार्य शुरू हो गया है   अभियंता विलसन कुजूर को शासन ने आवष्यक सेवानिवृति देकर उनके पद से हटा दिया है। बताया जाता है कि जषपुर जिले में लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों की कारगुजारी से विभाग के उच्च अधिकारी पूरी तरह वाकिब हैं।इसी वजह 8 नवंबर को लोक निर्माण विभाग के मंत्री राजेष मूणत का पत्थलगांव प्रवास से पहले ही इस तरह की बड़ी कार्रवाई कर चेतावनी का संदेष दिया गया है। लोक निर्माण विभाग के अवर सचिव व्दारा आवष्यक सेवानिवृत्त करने की कार्रवाई के बाद अन्य अधिकारी और कर्मचारियों में भी खलबली मच गई है।
विभाग के सूत्रों का कहना है कि कार्यपालन अधिकारी श्री कुजूर के विरूध्द पूर्व में भ्रष्टाचार अथवा कार्य में लापरवाही का कोई भी प्रकरण लंबित नहीं था।अचानक सेवानिवृति की इस कार्रवाई को लेकर तरह तरह की चर्चा व्याप्त हैं। एक दिन बाद पत्थलगांव और जषपुर में लोक निर्माण मंत्री का प्रवास तथा नागरिकों से मुलाकात का कार्यक्रम के मददेनजर श्री कुजूर का कार्यभार जषपुर के कार्यपालन यंत्री केआर दष्र्यामकर को सौंप दिया गया है।

इधर पत्थलगांव में श्री मूणत का प्रवास और कार्यपालन अभियंता की सेवानिवृति के बाद लोक निर्माण विभाग का पूरा अमला आसपास की जर्जर सड़कों पर लिपापोती के काम में जुट गया है। रविवार को शहरी क्षेत्र में जब पत्थलगांव रायगढ़ सड़क पर जानलेवा गडडों पर लिपापोती का काम शुरू हुआ तो नागरिकों की भीड़ ने इस काम को रोक दिया था। इसके बाद भी लोक निर्माण विभाग का अमला ने देर रात फिर से सड़क मरम्मत कराने का काम शुरू करने का प्रयास किया था। इस दौरान भी नागरिकों ने गुणवत्ता की अनदेखी करने वाले काम का विरोध कर सभी अधिकारियों को खाली लौटा दिया था। इसी वजह लोक निर्माण विभाग का अमला अब आनन फानन में सड़कों पर लिपापोती कर अपनी निष्यक्रियता पर पर्दा डालना चाह रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *