October 1, 2020
Breaking News

ताजमहल को नहीं इस हिन्दुस्तानी मन्दिर को मिला यूनेस्को अवार्ड

तमि‍लनाडु के भव्य  मंदि‍रश्री रंगनाथस्‍वामी मंदि‍र को यूनेस्को  एशि‍या पेसि‍फि‍क अवार्ड को ऑफ मेरि‍ट 2017 मि‍ला है।इस पुरस्‍कार के लि‍ए एशि‍या प्रशांत क्षेत्र के 10 देशों से कई प्रोजेक्‍ट्स आए थे।जिनमे हमारा ताजमहल भी शामिल था यह सब करीब 25 करोड़ की लागत से हुए रि‍नोवेशन की बदौलत संभव हुआ है।

.मंदि‍र प्रशासन की खुशी का ठि‍काना नहीं रहा, जब उन्‍हें इस बात का पता चला कि‍ यूनेस्को ने इस मंदि‍र को पुरूस्कार  के लि‍ए चुना। ताजमहल के शामिल रहते हुए इस मंदीर को यह पुरूस्कार मिलना बड़े ही गर्व की बात है गौरतलब हो की श्रीरंगम, अपने श्री रंगनाथस्वामी मंदिर के लिए प्रसिद्ध है, जो हिन्दुओ  (विशेष रूप से वैष्णवों) का एक प्रमुख तीर्थयात्रा गंतव्य और भारत के सबसे बड़े मंदिर परिसरों में से एक है।मंदिर की वेबसाइट के अनुसार, श्रीरंगम को दुनिया का सबसे बड़ा क्रियाशील हिन्दू मंदिर माना जा सकता है क्योंकि इसका क्षेत्रफल लगभग 6,31,000 वर्ग मी (156 एकड़) है जिसकी परिधि 4 किमी (10,710 फीट) है।इसके बारे में एक मिथक है कि गोपुरम के ऊपर से श्रीलंका  के तट को देखा जा सकता है। मंदिर का गठन सात प्रकारों (उन्नत घेरों) से हुआ है जिसका गोपुरम अक्षीय पथ से जुड़ा हुआ है जो सबसे बाहरी प्रकार की तरफ सबसे ऊंचा और एकदम अन्दर की तरफ सबसे नीचा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *