September 24, 2021
Breaking News

पति को कंधे पर बैठा था और भीड़ मारती रही चप्पलें, बनती रही वीडियो

झाबुआ: मध्य प्रदेश के कई इलाकों में अब भी पुलिस और कानून सम्मत काम नहीं होता, बल्कि समाज की पंचायतें अपने नियमों के मुताबिक फैसले सुनाती हैं. ताजा मामला आदिवासी बहुल झाबुआ जिले का है, जहां एक महिला के प्रेमी के साथ भाग जाने के बाद लौटने पर समाज ने उसे सजा सुनाई.यहां एक महिला को अपने पति को कंधे पर बैठाना पड़ा। पति को कंधे पर बिठाकर चल रही महिला को उसके परिजन पीट रहे थे। महिला पति के बोझ से दबी जा रही है, लेकिन उसका दर्द सुनने वाला कोई नहीं था। साथ चल रही भीड़ में शामिल लोग अपशब्द बोल रहे थे या उसका वीडियो बना रहे थे। महिला को यह दंड पति और अपने चार बच्चों को छोड़कर प्रेमी के साथ भागने पर दी गई थी। साथ चल रही भीड़ में शामिल लोग अपशब्द बोल रहे थे या उसका वीडियो बना रहे थे। महिला को यह दंड पति और अपने चार बच्चों को छोड़कर प्रेमी के साथ भागने पर दी गई थी।

मामला सामने आने पर पुलिस ने मंगलवार को 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया। इसके पहले सोमवार को पति सहित चार लोगों को गिरफ्तार किया गया था।भीड़ उसे चप्पलें मारती रहीं. पुलिस ने इस मामले में चार लोगों गिरफ्तार किया है. पुलिस के अनुसार, टिटोली पुलिस चौकी के खेड़ी गांव की एक महिला अपने चार बच्चों को छोड़कर पिछले दिनों प्रेमी के साथ भाग गई थी. यह महिला शनिवार को अपने गांव लौटी, तो भील समाज ने पंचायत कर फैसला लिया कि महिला अपने पूर्व पति को कंधे बिठाकर गांव की गलियों से होते हुए अपने घर तक ले जाए.सोशल मीडिया पर वायरल हुए वीडियो में साफ नजर आ रहा है कि महिला अपने पूर्व पति को कंधे पर बिठाए हुए चल रही है और उसके पीछे चल रही भीड़ महिला को चप्पलें मार रही है. महिला रोती रही, मिन्नतें करती रही, मगर कोई भी उसकी मदद के लिए आगे नहीं आया. इतना ही नहीं, भीड़ में मौजूद कई युवा पूरे समय वीडियो बनाने में व्यस्त रहे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *