Sharing is caring!

लखनऊ। मुहूर्त मार्तण्ड के अनुसार छिपकली का स्त्री-पुरूष के किसी भी अंग पर गिरने से शुभ व अशुभ दोनों प्रकार फल मिलते है। पेट, नाभि, छाती व दाढ़ी को छोड़कर उसके उपर मस्तक पर्यन्त किसी भी भाग पर छिपकली का गिरना सामान्यतः शुभ होता है।

इन अंगों के सिवा पुरूष के अन्यान्य दाहिने अंगो पर एंव स्त्री के दॉये अंगों पर छिपकली का गिरना प्रायः अशुभ माना जाता है।

  • यदि छिपकली मस्तक पर गिरे तो- राज्य लाभ होता है।
  • केशो पर छिपकली गिरने से-मरण कष्ट होता है।
  • नासिका पर गिरने से-सौभाग्य लाभ होता है।
  • बॉया गाल पर छिपकली गिरने से-किसी भी प्रकार की हानि होती है।
  • यश व लाभ

    • गर्दन पर छिपकली गिरे तो-यश व लाभ मिलता है।
    • अगर भौंह पर छिपकली गिरे तो-धन हानि होती है।
    • पीठ के दाहिने हिस्से पर छिपकली गिरने से-सुख व संसाधनों में वृद्धि होती है।
    • दॉयी भुजा पर छिपकली गिरने पर-धन का लाभ होता है।
    • बॉयी हथेली पर गिरने से-धन की हानि होती है।

      अपने प्रिय से मिलन होता है

      • बॉये पैर गिरने से-ह्रदय वेदना होती है।
      • बॉये स्तन पर गिरने से-हार्दिक क्लेश होता है।
      • यदि पेट पर छिपकली गिरे तो समझो-आभूषण की खरीददारी हो सकती है।
      • कमर पर गिरने से-धन में वृद्धि होती है।
      • दॉये घुटने पर अगर छिपकली गिरे तो-अपने प्रिय से मिलन होता है।
      • दॉहिने पैर की ऐड़ी पर छिपकली गिरने से-दुःखद घटना का समाचार मिलता है।
      • दॉये कान पर छिपकली गिरने से-आभूषण की प्राप्ति होती है।

        छिपकली गिरने से-आयु में वृद्धि

        • यदि मुख पर छिपकली गिरे तो-स्वादिष्ट भोजन की प्राप्ति होती है।
        • दॉहिने गाल पर छिपकली गिरने से-आयु में वृद्धि होती है।
        • बॉये नेत्र पर छिपकली गिरने से-रोग में वृद्धि व भय बना रहता है।
        • अगर दाहिने कन्धे पर छिपकली गिरे तो-कार्यो में विजय होती है।
        • बॉयी भुजा पर छिपकली गिरने से-धनहानि व राज भय बना रहता है।

          मनोकामना सिद्धि

          • यदि ह्रदय पर छिपकली गिरे तो-सुख व भाग्य में वृद्धि होती है।
          • नाभि पर छिपकली गिरने से-मनोकामना सिद्धि होती है।
          • दाहिने जॉघ पर छिपकली गिरने से-सुख व समृद्धि आती है।
          • गले पर छिपकली गिरने से-धन-धान्य में वृद्धि होती है।
          • मॅूछ पर छिपकली गिरने से-सम्मान मिलता है।

            छिपकली गिरने से-नयें कपड़ो को खरीददारी

            • दाहिने नेत्र पर छिपकली गिरने से-बन्धु-बान्धवों से मिलन होता है।
            • पीठ के मध्य में छिपकली गिरने से-घर में कलह होती है।
            • दॉयी हथेली पर छिपकली गिरने से-नयें कपड़ो को खरीददारी होती है या फिर वस्त्र लाभ होता है।
            • दॉये स्तन पर छिपकली गिरने से-स्त्रियों को मनोरंजन करने के अवसर मिलते है।
            • दॉये पैर पर छिपकली गिरने से-यात्रा करने के अवसर मिलते है।

          खबर सूत्र Oneindia Hindi

Sharing is caring!