January 20, 2022
Breaking News

जंगल मे मिली संदिग्ध हालत में लाश, फैला सनसनी,खून से लथपथ शरीर पर थे पंजों के निशान

*लावारिस हालत में लाश मिलने से गांव में फैला सनसनी बेटे को खोजते जंगल में पहुंचे तो पड़ा था मुंह के बल, खून से लथपथ शरीर पर थे पंजों के निशान*

सूरजपुर. एक युवक गुरुवार की सुबह घर से लकड़ी लेने जंगल में गया था। 4 घंटे तक वह घर नहीं पहुंचा तो परिजनों को उसकी चिंता हुई। वे उसे खोजने जंगल की ओर गए तो वह मुंह के बल गिरा पड़ा था। शरीर खून से लथपथ थी। पलटकर देखा तो पूरे शरीर पर जानवर के पंजे व दांत से नोंचने के निशान पड़े थे।
उन्हें यह समझते देर नहीं लगी कि उनके बेटे को भालू ने मार डाला है। वे लाश को देखकर बिलखने लगे। सूचना पर पुलिस की टीम मौके पर पहुंची और शव को पीएम के लिए अस्पताल भिजवाया गया। डॉक्टरों ने जंगली जानवरों के हमले में मौत की पुष्टि की।

सूरजपुर जिले के ग्राम भरतपुर निवासी गुलाब पण्डो पिता महावीर पण्डो उम्र 20 वर्ष गुरुवार को सुबह करीब 7 बजे लकड़ी लेने जंगल जाने निकला था। करीब 11 बजे तक वापस न लौटने पर जब परिजन युवक की सुध लेेने निकले तो ठेपकछार घुटरी के समीप क्षत-विक्षत हालत में युवक का शव देखकर ठिठक गये।
शरीर में जंगली जानवर के पंजों के निशान और सिर व पीठ में गहरे जख्म को देखकर परिजन को समझते देर नहीं लगी कि आदमखोर भालू ने गुलाब को मौत के घाट उतारा है। परिजनों द्वारा तत्काल इसकी सूचना गांव के सरपंच व अन्य रिश्तेदारों को दी।
पुलिस को सूचना मिलते ही मौके पर पहुंचकर पंचनामा तैयार किया और शव को पोस्टमार्टम के लिए जिला चिकित्सालय लाया। यहां चिकित्सकों ने जंगली जानवर के द्वारा हमला कर सिर और पीठ के हिस्से को बुरी तरह से नोच देने से हुए गहरे जख्मों के कारण मौत की पुष्टि की है। इधर जवान बेटे की मौत से पूरे परिवार का रो-रोकर बुरा हाल है। गांव में भी मातम पसरा हुआ है।

वन विभाग ने दी 25 हजार की सहायता राशि
भालू के हमले से गुलाब की मौत की सूचना मिलने पर वन विभाग के रेंजर एसए खान भी मौके पर पहुंचे और मृतक के परिवार के प्रति संवेदना व्यक्त की। उन्होंने अंतिम संस्कार के लिए मृतक की मां फूलकुंवर पण्डो को तत्कालिक आर्थिक सहायता राशि 25 हजार रुपए प्रदान किए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *