June 7, 2020
Breaking News

डीजीपी से पहचान बताकर धोखाधड़ी करने वाले पुलिस कर्मियों पर रिपोर्ट दर्ज

डीजीपी से पहचान बताकर छह आरक्षकों से जिला पुलिस में भर्ती कराने के नाम पर 12 लाख की धोखाधड़ी करने वाले दो आरक्षकों पर राजधानी पुलिस ने देर रात अपराध दर्ज किया है। पीड़ित मिथलेश कुमार (प्रथम वाहिनी भिलाई) ने मंदिर हसौद थाने में शिकायत दर्ज कराई है। उसने बताया कि आरक्षक प्रमोद रजक और विजय कुमार राय ने जिला बल में भर्ती कराने का झांसा देकर धोखाधड़ी की है।मंदिर हसौद थाना प्रभारी सोनल ग्वाला ने बताया कि घटना जून 2019 की है। 18 वीं वाहिनी छत्तीसगढ़ सशस्त्र बल मनेंद्रगढ़ में पदस्थ आरक्षक प्रमोद रजक और 13वीं बटालियन में पदस्थ विजय कुमार उर्फ अप्पू राय ने कैफ एवं जिला बल में भर्ती कराने का झांसा देकर मिथलेश कुमार से कुल 06 लाख रुपयों की धोखाधड़ी की। मामले की जांच के दौरान पाया गया कि आरक्षक जगदीश के परिचित प्रमोद निषाद से एक लाख, आरक्षक गोवर्धन सिंह नेताम से उनके रिश्तेदार यश कुमार ध्रुव और दीपक श्रीवास्तव से प्रति 1.5 लाख, आरक्षक गंगा प्रसाद साहू से 50 हजार, आरक्षक सेतराम आदिले से 01 लाख और आरक्षक रामकुमार से 50 हजार कुल 12 लाख रुपयों की धोखाधड़ी आरोपित आरक्षक प्रमोद रजक और विजय राय ने की है। आरोपितो के विरुद्घ आपराधिक षड्यंत्र रचने और धोखाधड़ी करने के मामले में अपराध दर्ज किया गया है। फिलहाल आरोपितों की गिरफ्तारी नही की गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *