December 5, 2021
Breaking News

महिलाओं को निर्भया बनाने वाली निर्भीक गन’ लांचिंग के पहले दिन ही हुई पीछे

निर्भया गैंग रेप की घटना  दोबारा न हो और महिलाओं को निर्भीक बनाने के उद्देश्य से सरकार कानपुर फील्ड गन फैक्ट्री में उनकी आत्मरक्षा के लिए साइज में छोटी और वजन में हल्की रिवाल्वर बनाई गई। निर्भया के नाम पर इसका नाम भी ‘निर्भीक गन’ रखा गया है। रिवाल्वर की लांचिंग के दिन से ही महिलाएं इस रिवॉल्व्र को पाने की दौड़ में पीछे रह गईं। समारोह में ही 10 में से 3 रिवॉल्वर महिलाओं को तो 7 रिवॉल्वर  पुरुषों को दी गईं हैं।प्रोडक्शन में कम होने के चलते महिलाओं की वेटिंग लिस्ट लम्बी हो गई.

पॉइंट 32 बोर की लाइटवेट रिवॉल्वर है ‘निर्भीक गन’

बता दें प्रोडक्शन में कम होने के चलते महिलाओं की वेटिंग लिस्ट लम्बी हो गई। कानपुर फील्ड गन फैक्ट्री के अस्सिसटेंट वर्क मैनेजर विवेकानंद चौबे ने बताया कि निर्भीक गन टाइटेनियम एलॉय से बनी पॉइंट 32 बोर की लाइटवेट रिवॉल्वर है। इसका कुल वजन 530 ग्राम है। उन्होंने बताया कि यह दिखने में काफी छोटी है यही वजह है कि महिलाओं के साथ-साथ ये पुरुषों को भी बहुत पसंद आ रही है। साइज और वजन के चलते ये गन आसानी से महिलाएं अपने बैग में रख सकती हैं। अस्सिसटेंट मैनेजर के मुताबिक इस रिवॉल्वर को पुरुषों को भी बेचा जा रहा है, लेकिन महिलाओं को प्राथमिकता दी जा रही है।

जानिए क्यों महिलाओं ने बनाई दूरी ?

कानपुर फील्ड गन फैक्ट्री की ओर से जारी ‘निर्भीक गन’ के रेट पर गौर करें तो एक गन 1 लाख 26 हजार रुपये की आ रही है। वहीँ बाजार में मौजूद दूसरी रिवॉल्वरर को देखते हुए ये रेट कहीं ज्यादा हैं।बता दें 0.32 एमके 111 (एल) कैटेगरी की निर्भीक गन की कीमत 99 हजार रुपये प्लस टैक्स के बाद 1.26 लाख रुपये की पड़ती है। जबकि इसी कैटेगरी की दो और गन 66 और 77 हजार रुपये टैक्स सहित आ रही है।

ये है निर्भीक गन की खासियत

दिल्ली के निर्भया गैंग रेप कांड से सबक लेते हुए कानपुर की इंडियन ऑर्डनेंस फैक्ट्री ने खास तौर पर महिलाओं के लिए यह रिवॉल्वर बनाई थी. सामान्य रिवॉल्वर के मुकाबले निर्भीक का वजन सिर्फ 500 ग्राम है, जबकि आम रिवॉल्वर कम से कम 750 ग्राम की होती है.

यह रिवॉल्वर एक बार में छह फायर कर सकती है. गन फैक्ट्री के अस्सिसटेंट वर्क मैनेजर के अनुसार किसी भी हथियार को डवलप करने में 2-3 साल का वक्त लगता है, लेकिन निर्भीक को तैयार करने में सिर्फ 1 साल लगा. टेस्टिंग रिवॉल्वर से 500-600 राउंड फायर कर इसकी क्षमता परखी गई.

अब तक 5 हजार गन हो चुकी हैं सप्लाई

अस्सिसटेंट वर्क मैनेजर के अनुसार फैक्ट्री में निर्भीक गन का प्रोडक्शन प्रति वर्ष 2 से ढाई हजार है. साढ़े तीन साल में फैक्ट्री करीब 5 हजार गन ग्राहकों को सप्लाई कर चुकी है. सैकड़ों आवेदन अभी भी वेटिंग लिस्ट में हैं. वजन में हल्की होने के चलते लोग इसे खूब पसंद कर रहे/

खबर स्त्रोत news18hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *