November 30, 2021
Breaking News

भारत में डॉक्टर के पास मरीजों के लिए सिर्फ दो मिनट , अमेरिका में 20 मिनट

फाईल फोटो

नई दिल्ली///भारत देश की लचर सरकारी स्वास्थ्य सेवाओँ पर उठते सवालों के बीच एक निराशाजनक सर्वे सामने आया है।ब्रिटेन की चिकित्सा पर आधारित पत्रिका बीएमजे ओपन ने दावा किया है कि भारत में डॉक्टर अपने मरीजों को सिर्फ 2 मिनट ही देखता है| भारत के पड़ोसी देश बांग्लादेश और पाकिस्तान में इससे भी बुरा हाल है वहां पर प्रति व्यक्ति औसत क्रमशः 48 सेकंड और 1.3 मिनट है| अध्ययन में कहा गया है कि दुनिया के 15 देश जहां विश्व की आधी आबादी निवास करती है, वहां प्राथमिक चिकित्सा परामर्श पांच मिनट या इससे भी कम होता है.अगर हम इस मामले में इसके उच्च स्तर पर बात करें तो इस अध्ययन के हिसाब से स्वीडन सबसे सही साबित हुआ है चिकित्सा के परामर्श पर जिसका औसत प्रति व्यक्ति 22.5 मिनट है|

यहाँ के डॉक्टर अपने एक मरीज़ पर इतना टाइम खर्च करता है जो की चिकित्सा के लिहाज से बहुत बेहतर है| इसके बाद अमेरिका और नार्वे का नंबर आता है जहाँ पर लगभग 20 मिनट का समय लेते हैं डॉक्टर मरीजों को देखने के लिए| अध्ययन में कहा गया है कि मरीज़ों को दिया गया कम समय स्वास्थ्य सेवाओं में बड़ी परेशानी खड़ी कर सकता है. भारतीय संदर्भ में विशेषज्ञों का कहना है कि यह अध्ययन बताता है कि स्वास्थ्य सेवा संस्थानों में ज़रूरत से ज़्यादा भीड़ है और प्राथमिक स्तर पर इलाज के लिए डॉक्टरों की भी कमी है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *