December 5, 2021
Breaking News

देखे वीडियो कहां मटका तोड़ महिलाओ ने किया शराब का विरोध, शराब कारोबारी में दहसत

जशपुर पत्थलगांव के मयुरनाचा गांव में लागु है मद्यनिषेध
अवैध शराब विक्रेताओं पर टूटा महिलाओं का कहर,

हरितछत्तीसगढ़ संजय तिवारी/विवेक तिवारीपत्थलगांव/

मयुरनाचा गांव में अवैध शराब विक्रेताओं को बार बार समझाईश देने के बाद भी इस धन्धे को जारी रखने वाले दर्जन भर से अधिक लोगों पर सोमवार को महिलाओं का जमकर कहर टूटा । भारत माता वाहिनी समिति की महिला सदस्यों के तीखे तेवर देखकर कुछ शराब विक्रेता अपने अडडो पर ताला लगाा कर भाग खड़े हुए थे।ऐसे लोगों को महिलाओं ने पुलिस की मदद से वापस बुला कर उनके ठिकानों से भी कच्ची शराब बनाने की सामग्री निकाल कर आग के हवाले किया।

Video

वीडियो/ मयुरनाचा गांव में सोमवार को अवैध शराब विक्रेताओं पर फूटा महिलाओं का गुस्सा
ग्राम पंचायत मयुरनाचा की सरपंच पिंकी पैंकरा ने बताया कि इस गांव में पूरी तरह से मद्य निषेध लागु किया गया है।इसके पहले यहां अवैध शराब का कारोबार पर रोक लगाने के लिए पुलिस ने काफी प्रयास किए थे। लेकिन पुलिस की टीम पहुंचने से पहले ही अवैध शराब को हटा देने से शराब की बिक्री पर विराम नहीं लग पाया था। गांव में शराबियों के चलते आपसी सौहाद्र का वातावरण बिगड़ते देख कर गांव की महिलाओं ने भारत माता वाहिनी समिति का गठन किया था। श्रीमती संगीता चैहान की अध्यक्षता में गठित इस समिति में भेलवांटोली, बगमड़ा, सुगापारा,नवाटोली, जुनापारा की महिलाओं को शामिल कर मजबूत संगठन बनाया गया है। गांव में अवैध शराब विक्रेताओं के अडडे चिन्हित कर सबसे पहले उन्हे चेतावनी दी गई थी। इसके बाद भी अवैध शराब का कारोबार बन्द नहीं होने से महिलाओं की समिति ने अब कड़ा रूख अपना लिया है।
मयुरनाचा गांव में शाराब का कारोबार करने वालों को सबक सिखाने के लिए महिला समिति की सचिव सुमित्रा पैंकरा ने सक्रिय सदस्य पुर्णिमा पैंकरा, बाल्मिकी, कविलासो, सियापति, राजकुमारी, षिवप्रभा, हरावती की समिति ने नवाटोली और जुनापारा के दर्जन भर ठिकानों पर दबिश दी थी।इस दौरान अवैध शराब के अडडों से बरामद कच्ची शराब और महुआ को आग के हवाले किया गया। महिलाओं ने नुक्कड़ सभा का आयोजन कर सभी के समक्ष कच्ची शराब बनाने की मटकी तथा अन्य सामान को तोड़ कर नष्ट कर दिया। इस सभा में शराब का अवैध कारोबार में लिप्त रहने वालों को अगली बार पकड़े जाने पर जेल की हवा खाने की चेतावनी दे दी गई है।
शराबियों से आपसी विवाद और अशांति बढ़ी
गांव में गांव की महिला सरपंच का कहना था कि मयुरनाचा गांव की महिलाओं ने शराब का अवैध कारोबार से परेशान होकर ही उसे पंचायत का मुखिया बनाया था। उन्होने कहा कि शराबियों का विवाद के चलते ही गांव में आपसी सौहाद्र लगातार बिगड़ने लगा था। युवा पीढ़ी भी नशे में रहने से विकास कार्यो को गति नहीं मिल रही थी।अवैध शराब का कारोबार से जघन्य अपराध और रूपयों की बर्बादी से परेशान ग्रामीण महिलाओं ने गांव में शतप्रतिशत शराब बन्दी का संकल्प लेकर इस काम को सख्ती से पूरा करना शुरू कर लिया है।
आस पास के गांवों में भी बनी दहशत
ग्राम पंचायत मयुरनाचा के सचिव रमेश जायसवाल ने बताया कि सोमवार को गांव में अवैध शराब विक्रेताओं के ठिकानों पर महिला समिति व्दारा दबिश देने की भनक मिलने के बाद जुनापारा के 3 लोग अपने अडडे पर ताला लगा कर भाग खड़े हुए थे।इन अडडों की घेराबंदी कर पुलिस की मदद से कच्ची शराब,महुआ आदि निकाल कर नुक्कड़ सभा में नष्ट किया गया।यहां अवैध शराब विक्रेताओं के विरूध्द ग्रामीण महिलाओं का सख्त रवैया देख कर आस पास के गांवों में भी दहशत का वातावरण बन गया है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *