July 24, 2021
Breaking News

देखे वीडियो कुरीति ,छत्तीसगढ़ के ये 16 परिवार १४ सालो से झेल रहे सामाजिक बहिष्कार का दंश

छत्तीसगढ़ के ये 16 परिवार १४ सालो से झेल रहे सामाजिक बहिष्कार का दंश

हरित छत्तीसगढ़ रायपुर रायपुर ।महासमुंद जिले के ग्राम गुढ़ेलाभाठा सहित आसपास के गांव के करीब 16 परिवार पिछले 14 वर्षों से सामाजिक बहिष्कार का दंश झेल रहे हैं। सामाजिक बहिष्कार का दंश झेलने वाले खेमराज बघेल, रमन सिंह बघेल, आनंद चौहान, नारायण बघेल , सोहन कुलदीप सहित सभी परिवार ने मुख्यमंत्री डा. रमन सिंह, अनुसूचित जाति आयोग से लेकर पुलिस थाने में शिकायत की लेकिन अभी तक दोषियों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हुई है और पीड़ित परिवार न्याय के लिए भटक रहे हैं।

देखे वीडियो

महासमुंद जिले के पटेवा क्षेत्र का एक ऐसा मामला सामने आया है जहां आज से 14 वर्ष पूर्व एक व्यक्ति को अंतर्जातीय विवाह करने के पश्चात भी उन्हें व उनका समर्थन करने वाले 16-17 परिवारों का दाना पानी बंद कर समाज से बहिष्कार कर दिया गया। इस पूरे मामले पर पीडि़त पक्ष के द्वारा कोर्ट में भी परिवाद दायर किया गया तब समाज प्रमुखों द्वारा उन्हें आश्वासन दिया गया कि वे उनके बहिष्कार के निर्णय को वापस ले लेंगे परंतु इसके बावजूद पीडि़त परिवार के बहिष्कार को समाप्त नहीं किया गया। पीडि़त पक्ष पिछले 14 वर्षों से परेशानी का दंश झेल रहा है और शासन व प्रशासन से उचित न्याय की गुहार लगाते हुए दोषियों पर कार्रवाई की मांग की है। आज पत्रकारवार्ता में परस सोनवानी एवं प्रभावित परिवारों ने उक्त मांग करते हुए बताया कि आज से 14 वर्ष पूर्व मेरे चाचा खेमराज बघेल की शादी पूरे सामाजिक रीति रिवाज के साथ 2003 में संपन्न हुआ था। ग्राम सोरिद की किरण (पिता- हरपु राम तांडे) से जो की स्वजातीय है से संपन्न हुआ था। जिसमें मंगनी, सगाई से लेकर विवाह तक में समाज प्रमुखों की सहभागिता थी। इन्ही पदाधिकारी एवं सयानों के आशीष से ही मेरे चाचा खेमराज बघेल ने विवाह किया था, तदोपरांत एक वर्ष बाद ग्राम संभर में गाड़ा समाज का बैठक हुआ, जिसमें सक्ताहा का आठ कबीला बना हुआ है। कौडिय़ा, खल्लारी, संभर, बार, सुअरमाल, शेवाती, खट्टा, महासमुंद इन आठो कबीलों के महासभा में मेरे चाचा खेमराज बघेल को समाज प्रमुख पतिराम, प्रीतराम, रामचंद्र एवं अन्य द्वारा बोला गया कि तुमने हमारे कबीले के बहार के साथ-साथ हमसे नीच कुलीन जाती कि लड़की से विवाह किया है, इस कारण तुम 10000 रूपए आर्थिक दंड के भागी हो। इसमें मेरे चाचाजी ने कहा कि न मैंने गंधर्व विवाह की न मैंने करत मैरिज की न मेरी पत्नी किरण बघेल अंतर्जातीय है तो मैं किस आधार पर 10000 रूपए आर्थिक दंड राशि का भुगतान करूं। मेरे चाचा खेमराज बघेल द्वारा दंड राशि का समर्थन ने करने पर खेमराज बघेल व उनके पूरे परिवार का सामाजिक बहिष्कार कर हुक्का पानी बंद कर दिया गया।

खेमराज बघेल को सही ठहराते हुए जिन 16-17 परिवारों ने उनका समर्थन किया उन्हें भी समाज प्रमुखों द्वारा बहिष्कार कर दिया गया। अनुसूचित जाति आयोग में 2015 में शपथ पत्र देने के बावजूद भी समाज प्रमुखों द्वारा पालन नहीं किया गया। हाल ही में 23 अगस्त को सुनवाई में भी वे लोग उपस्थित नहीं हुए। विगत कई वर्षो से हम पीडि़त परिवार इस समस्या का दंश झेल रहे है।यहा तक की अब इन परिवारों के लडको और लडकी की शादी तक नही हो पा रही है ।

सामाजिक बहिष्कार मामले में भाजपा नेता सहित 7 के विरुद्ध जुर्म दर्ज

 सामाजिक बहिष्कार करने  के आरोप में पुलिस ने एक भाजपा नेता सहित 7 सामाजिक पदाधिकारियों के विरुद्ध अपराध पंजीबद्ध किया है। पुलिस के अनुसार ग्राम गुड़ेलाभाठा निवासी खेमराज बघेल वर्ष 2012 से सामाजिक बहिष्कार का दंश झेल रहे हैं। इस बीच उनके घर शोक का कार्यक्रम होने पर 8 अक्टूबर 2017 को दशगात्र कार्यक्रम में शरीक हुए रिश्तेदार रमन सिंह बघेल पिता जगतराम (30) को भी सामाजिक पदाधिकारियों ने गांड़ा समाज के रीति-नीति का पालन नहीं करने का आरोप लगाते हुए सामाजिक बहिष्कार करने के साथ ही 651 रुपए अर्थदंड किया। रमन सिंह मूलतः ग्राम गुड़ेलाभाठा का रहने वाला है। वर्तमान में रायपुर में रहकर कामकाज कर रहा है। रमन की रिपोर्ट पर भाजपा नेता प्रीतराम सूर्ये पिता सेवकराम निवासी ग्राम गड़बेड़ा, पतिराम बिंदाराम बघेल लखनपुर, गुहाराम रामसिंह सागर तेंदूवाही, रामचंद पतंगा जगत मुढ़ीपार, परमेश्वर विदेशी मरकाम मोहबा (गांजर), रामकुमार नरोत्तम नाग बंसुलाडबरी और घांसीराम चुन्नीलाल बघेल निवासी ग्राम जोरा (पटेवा) के अलावा अन्य सामाजिक पदाधिकारियों के विरुद्ध भादवि की धारा 384, 34, नागरिक अधिकार संरक्षण अधिनियम 1955 की धारा 7 के तहत जुर्म दर्ज कर विवेचना में लिया है।वही पीड़ित पक्षों ने आरोप लगाया है की पुलिस रिपोर्ट दर्ज करने के बाद भी कोई करवाई नही कर रही है/

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *