August 13, 2020
Breaking News

शिक्षिका बहनों ने राखी भेजकर मुख्यमंत्री को कहा जन घोषणा पत्र का दो उपहार!

*शिक्षिका बहनों ने राखी भेजकर मुख्यमंत्री को कहा जन घोषणा पत्र का दो उपहार!*

*छ ग. सहायक शिक्षक फेडरेशन के प्रांतीय मुहिम में जिला धमतरी के समस्त सहायक शिक्षिकाओं ने राखी भेजकर जनघोषण पत्र में किये वादे को उपहार स्वरूप प्रदान करने एक संदेश छ. के मुखिया भूपेश बघेल व स्वास्थ्य मंत्री टी. एस. सिंहदेव को राखी भेज कर की हैl ज्ञात हो कि विधानसभा चुनाव में वर्ग-3 की वेतन विसंगति को दूर करने , एक ही पद में प्रमोशन से वंचित शिक्षको को 10 वर्ष की सेवा की गणना कर क्रमोन्नति वेतन में देने का वादा किया गया था पर अभी तक इस पर कुछ हासिल नही हुआ,इस अभियान को पूरे छ. ग. में शिक्षिका बहनो ने राखी भेजकर याद दिलाते हुए सरकार से अपनी बहन होने की भाव को रख मांग की है और कहा है कि छ. ग.की सभी बेटी रक्षाबंधन में भाई की कलाई पर राखी बांध अपने सुरक्षा,का आशीर्वाद मांगती है इसलिए हम भी अपने सरकार रूपी भाई को याद की है….पिछले 20-22 वर्षों में सहायक शिक्षकों को एक ही पद में रहकर कार्य करना पड़ रहा है,जबकि 10 वर्ष में सीनियर शिक्षकों उच्चतर वेतन मिलता है,और अन्य विभाग में भी पदोन्नति न मिलने पर उच्चतर वेतन मान दिया जाता है, साथ ही संविलियन के समय वर्ग-3 के वेतन में भारी विसंगति वेतन स्केल बना जो संविलियन के होने पर भी कुछ भी फायदा नही हुआ इसी बात भूपेश बघेलजी नेसोशल मीडिया में कही थी कि वर्ग3 के वेतन में काफी अंतर है जिसे जन घोषणा पत्र में भी शामिल किया गया था आज छह.ग.की सभी बहनो ने प्रदेश के मुखिया, जर्जर के पास संवेदना को प्रकट करते हुए रखी भेजकर इस आशय को स्पष्ट कर दिया है कि अब भी सहायक शिक्षक लाभ से वंचित है 1998 में नियुक्त कई ऐसे भी शिक्षक वर्ग है जिन्हें 22 वर्ष हो गए और रिटायरमेंट के कगार पर पहुच गए है….यदि सहमे रहते मांग पूरी नही हुई तो साकारी कर्मचारी होने का मतलब समाप्त हो जाएगा और शिक्षकों के परिवार को डर दर की ठोकर खाने पैड सकते है ये स्थिति तब और भयावह हो जाती है जब पूरे देश मे 2004 के बाद के समस्त कतमचारी का पुरानी पेंशन भी बंद है ऐसे में समय मे यदि इन जैसे गंभीर मांगों को पूरा नही किया गया तो परिवार सड़क पर आ जएगा..ये हक केवल मांग नही है बल्कि ये संविधान के अनुरूप कर्मचारियों का हक है जिसे आज पर्यन्त प्रशाशन के द्वारा अनदेखी की गई….कुरुड़ ब्लॉक समेत पूरे जिले के सभी बहाने आज मजबूर है,और आशा भी है कि इस बार की राखी में सरकार के काले में छोटी वाहनों की राखी उनके जीवन को आबाद करने व छ.ग.के अस्मिता को बचाने उनकी मांग रूपी उपहार जरूर मीले इसी उम्मीदे से एक अभियान पूरे प्रदेश में चलाया जा रहा है..*

इस अभियान में धमतरी जिला व कुरुद ब्लॉक महिला प्रकोष्ठ से विनीता साहू, संगीत सोनी,सरस्वती सिंह,डिगेश्वरी ध्रुव,सरस्वती साहू,शिप्रा कन्नौजे,गीता त्रिपाठी,डिमेश्वरी भेशले,गोपेश्वरी ध्रुव,शशिकला, मंजुलता,अभिलाषा कश्यप,खिलेश्वरी मिथलेश,समृत्ति गोश्वामी,अनिता देव,प्रिटतेश्वरी साहू आदि ने सरकार को राखी भेज अपनी सुरक्षा की मांग की है
यह जानकारी जिला अध्यक्ष-हुलेश चंद्राकर ने दी है एवं सभी से अपील भी की है कि राखी के साथ एक चिट्ठी जरूर भेजें और अपने जनघोषणा पत्र के अमल का उपहार की मांग जरूर करे🙏🏻🙏🏻🙏🏻

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *