November 1, 2020
Breaking News

कोटा-नगर पंचायत कंटेन्मेंट जोन-घोषित,,,,21-से-28 सितंबर तक टोटल-लाकडाउन जिला-दंडाधिकारी ने निकाला फरमान।

कोटा-नगर पंचायत कंटेन्मेंट जोन-घोषित,,,,21-से-28 सितंबर तक टोटल-लाकडाउन जिला-दंडाधिकारी ने निकाला फरमान।

ग्रामीण-इलाको पर लाकडाउन का कोई असर नही,,,,पर कंटेन्मेंट-जोन की जगह पर ग्रामीणों की आवाजाही पूरी तरह रहेगी प्रतिबंधित।

दूध-मेडिकल-सेवा पेट्रोल पंप,,,बैंक एक समय-सीमा तक रहेंगी खुली,,,बाकी सभी व्यवसायिक-प्रतिष्ठान-धार्मिक स्थल पूरी तरह से रहेंगी बंद।

शराब दुकान रहेगी पूर्णतःबंद संपूर्ण-लाकडाउन के दौरान सड़को पर तफरीह करने वालो के खिलाफ होगी कड़ी-कानूनी कार्यवाही।

*दिनांक:-20/09/2020*

*संवाददाता:-मोहम्मद जावेद खान करगी रोड कोटा हरित छत्तीसगढ़।*

करगीरोड-कोटा:-पूरे प्रदेश सहित बिलासपुर जिले में लगातार कोरोना-संक्रमितों की बढ़ती हुई संख्या को देखते हुए जिला-दंडाधिकारी डॉ. सारांश-मित्तर ने 21-सितंबर के सुबह 05 बजे से से लेकर 28 सितंबर के रात 12 बजे तक बिलासपुर शहर सहित जिले के नगरीय-निकायों में संपूर्ण-लाकडाउन लगाने का फरमान जारी किया है, जनपद पंचायत के अंतर्गत आने वाले ग्रामीण-इलाकों को लाकडाउन से दूर रखा गया है, पर ग्राम-पंचायतो के ग्रामीण-लोगो को कंटेन्मेंट-जोन घोषित इलाको में प्रवेश पूरी तरह से प्रतिबंधित रहेगी, कंटेन्मेंट-जोन में ग्रामीण इलाकों के लोगो की आवजाही पूरी तरह से बंद रहेगी, भले ही जनपद-पंचायत के अंर्तगत आने वाले ग्राम-पंचायतों को लाकडाउन से दूर रखा गया है, पर कोटा जनपद पंचायत के कुछ ग्रामीण क्षेत्रों जैसे पीपरतराई टेंगनमाडा, खोंगसरा बेलगहना,अमलीकापा मौहारखार, में कोरोनो से संक्रमित लोग पाए गए हैं।*

कोटा-नगर पंचायत के वार्डो में बढ़ते संक्रमण के कारण कोटा-नगर पंचायत कंटेन्मेंट जोन-घोषित:—


*कोटा-नगर के लगभग अधिकांश वार्डो में लगातार कोरोना-पॉजिटिव लोगो की पहचान रोजाना होते जा रही है, कोरोना संक्रमण का खतरा नगर में दिनों दिन बढ़ता ही जा रहा है, इस लिहाज से कोटा-नगर-पंचायत को भी कंटेन्मेंट जोन में रखा गया है, कोटा नगर पंचायत के साथ- साथ रतनपुर, बिल्हा, मल्हार, बोदरी, तखतपुर, को भी जिला-कलेक्टर ने कंटेन्मेंट-जोन घोषित किया है, लॉकडाउन की स्थिति में कंटेन्मेंट-जोन इलाके में लोगो की आवाजाही पूर्णतः बंद रहेगी सभी व्यवसायिक प्रतिष्ठान बंद रहेगी दूध, मेडिकल-सेवा, पेट्रोल-पंप वो भी एक निश्चित समय सीमा तक खुली रहेगी, अन्य आपातकालीन सेवाओं को छोड़कर, आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 की धारा 30, 34 महामारी रोग अधिनियम 1897 यथा संशोधित 2020 द्वारा प्रदत्त-शक्तियों का प्रयोग करते हुए जिला-दंडाधिकारी बिलासपुर डॉ. सारांश-मित्तर ने जिले के नगरीय निकायों में 21-सितंबर की रात 9 बजे से 28 सितम्बर की रात्रि 12:00 बजे तक लॉकडाउन की घोषणा की है।*

दूध-मेडिकल-सेवाओं सहित पेट्रोल-पंप निश्चित समय सीमा तक खुलेगी आपातकालीन मेडिकल सेवा जारी रहेगी:–


*लॉकडाउन के दौरान बिलासपुर शहर जिले के अन्य निकायों सहित कोटा नगर पंचायत की संपूर्ण सीमाएं पूर्णतः सील रहेगी, लॉकडाउन के दौरान केवल मेडिकल दुकानों को अपने निर्धारित समय में खोलने की अनुमति होगी, मेडिकल दुकान संचालक दवाओं की होम डिलीवरी-व्यवस्था को प्राथमिकता देंगे, पेट्रोल-पंप संचालकों द्वारा केवल शासकीय वाहनों व शासकीय कार्य में प्रयोग की जाने वाले वाहन, मेडिकल इमरजेंसी से संबंधित निजी-वाहन एंबुलेंस तथा एलपीजी परिवहन कार्य में प्रयुक्त वाहनों को ही प्रदान किया जावेगा, अन्य वाहन पूर्णतः प्रतिबंधित रहेगा, दूध की दुकाने सुबह 6:00 बजे से प्रातः 8:00 बजे तक व शाम 5:00 बजे से 7:00 बजे तक ही खोलने की अनुमति दी गई है, यह स्पष्ट किया जाता है, कि दूध व्यवसाय हेतु कोई भी दुकान पार्लर इसके अलावा नहीं खोले जाएंगे तथा दुकान पार्लर के सामने फिजिकल डिस्टेंसिंग संबंधी निर्देशों का पालन करते हुए उपरोक्त में केवल दूध ही होगी, पेट-शॉप में केवल पशुओं को पशु-चारा देने हेतु प्रातः 6:00 बजे से प्रातः 8:00 बजे तक एवं संध्या 5:00 बजे से संध्या 6:30 तक शॉप खोलने की अनुमति होगी।*

अनावश्यक-घरों से बाहर या सड़को पर घूमने वाले हो जाए सावधान चलेगा प्रशासन का डंडा होगी कार्यवाही:—


*गैस-एजेंसी केवल टेलीफोनिक ऑनलाइन आर्डर लेंगे एवं ग्राहकों को सिलेंडरों की घर पहुंच सेवा उपलब्ध कराएंगे, नगर-निगम सहित अन्य निकाय क्षेत्र में आगामी आदेश तक सब्जी, चिकन-मटन-मार्केट, शराब-दुकान तथा अन्य किराना-दुकानें धार्मिक-स्थल, पर्यटन-स्थल पूरी तरह से बंद रहेंगे, मेडिकल-सेवाओं को छोड़कर आदेश में दिए गए 18-बिंदुओं के अंर्तगत कोटा नगर पंचायत सीमा के अंतर्गत समस्त-गतिविधियां पूरी तरह से पूर्णतः प्रतिबंधित रहेगी, आदेश का उल्लंघन करने वाले व्यक्तियो, प्रतिष्ठानों पर भारतीय दंड-संहिता 1807 की धारा 188 तथा अन्य सुसंगत-विधि अनुसार कड़ी कार्यवाही की जाएगी, इसके अलावा शासकीय-कार्यालय संस्था आगामी आदेश तक पूर्णता बंद रहेंगे, घरों से बाहर या सड़को पे बेवजह घूमने वालों पर जिला-प्रशासन के द्वारा सख्त कार्यवाही की जाएगी, इसलिए कोटा-नगर पंचायत सीमा के वार्डो में रहने वाले लोगों से हरितछत्तीसगढ़” अपील करता है, की जिला प्रशासन के आदेश का पूर्णता-पालन करते हुए अपने-अपने घरों में रहे, आवश्यकतानुसार 1-हफ्ते की आवश्यक-सामग्री सोमवार तक ले-लेवे, लाकडाउन के दौरान अपने घरों में रहे बेवजह सड़को या कही और जगहों में तफरीह या सैर-सपाटा करने से बचे, अपने और अपनों की देखभाल कर कोरोना के संक्रमण से खुद भी बचे और अपने नगर के लोगो को भी बचाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *