October 24, 2020
Breaking News

जयसिंग व गणेश तालाब की सफाई हेतु रैपिड एक्शन टीम के साथ पहुँचे पाण्डेय

ललित तिवारी/ हरित छत्तीसगढ़ रायगढ़. जिला कलेक्टर भीम सिंह के निर्देशन में आज नगर निगम आयुक्त निरीक्षण हेतु जयसिंह तलाव एवं गणेश तलाव निगम अमला के साथ पहुंचे जहां खस्ताहाल व्यवस्था देख कर जल्द से जल्द सुव्यवस्थित करने निर्देश दिए इन तालाबों के सौंदर्यकरण के लिए वार्ड के पार्षद सलीम नियारिया की भी मांग लगातार की जा रही थी। ज्ञात हो कि जिला कलेक्टर भीम सिंह के निर्देशन में नगर निगम आयुक्त आशुतोष पांडे एवं निगम अमला तथा वार्ड के पार्षद एवं पूर्व सभापति सलीम नियारिया गणेश तालाब एवं जयसिंह तालाब के निरीक्षण में पहुंचे। जहां तालाबों की बदहाली देख आयुक्त ने दोनों तालाबों को चप्पा चप्पा जांच किया। जिसमें तालाब के पानी में नाली के पानी से गंदगी होना कचरा की सफाई न होना गार्डन की बदहाल स्थिति नालियों का टूटा हुआ मलमा जाम नाली जैसे परेशानियों को देखकर आयुक्त ने सफाई कर्मी लगाकर त्वरित कार्रवाई करते हुए सर्वप्रथम सफाई कराई ,तालाब के पानी से कमल के सूखे पत्ते जलकुंभी एवं घास निकालने पूरी टीम लगाई ,गणेश तालाब की सफाई लगभग पूरी हो गई मछलियों की अधिकता को देखते हुए नियमित सफाई हेतु विभाग प्रमुखों को निर्देशित किया तो वही पार्क में बैठने एवं नालियों समेत फर्श को पुनः सुधारने का को भी निर्देश दिया विगत दिनों गणेश तालाब से कछुओं की मौत के घटना की पुनरावृत्ति न हो इसके लिए देखरेख की व्यवस्था पुख्ता करने भी निर्देश दिए, साथ ही वहां जीर्ण शीर्ण अवस्था मे पड़ी कंपोस्ट पिट को सुधार कराकर कंपोस्ट खाद बनाने कि प्रक्रिया आरम्भ करने निर्देश दिया। नगर निगम आयुक्त आशुतोष पांडे ने बताया कि ठंड का समय है लाकडॉउन भी खत्म होने वाला है इसलिए लोग बड़ी संख्या में मॉर्निंग वॉक में भी आएंगे ,छोटे बच्चे भी आते हैं उन सब को एवं सुरक्षा को देखते हुए पहले तो सफाई कराई गई है सफाई कराने के बाद बाहर से जाम नालियों का पानी जो तालाब में रिस रहा है उसके लिए इंजीनियर ई ई को निर्देश दिया है कि तत्काल इसका रिपेयर कराएं ताकि नालियों का पानी तलाब में ना मिले और इसके साथ ही पहले जो अभिनव योजना थी हर तालाब और गार्डन में कंपोस्ट खाद बनाने का तो निरीक्षण करने पर देखा गया कि उनकी स्थिति खराब हो गई है वापस फिर से रिपेयर करके और वहां पर वर्मी कंपोस्ट खाद बनाने का काम भी किया जाएगा तालाब पर जो कूड़ा करकट निकलता है उसकी वहीं पर कंपोस्टिंग हो सके और हमें उन्हीं तालाबों को चलाने के लिए तत्काल खाद मिल सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *