August 3, 2021
Breaking News

जशपुरनगर : कायाकल्प में जशपुर जिला चिकित्सालय प्रथम : मिले 50 लाख रुपए

जशपुरनगर : कायाकल्प में जशपुर जिला चिकित्सालय प्रथम : मिले 50 लाख रुपए

हरित छत्तीसगढ़ रायपुर//जशपुर जिला चिकित्सालय ने कायाकल्प योजना में प्रदेश में प्रथम पुरस्कार प्राप्त किया। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने गुरुवार को राजधानी रायपुर में आयोजित कार्यक्रम में जिला अस्पताल को 50 लाख रुपए के प्रथम पुरस्कार से सम्मानित किया। साथ ही जिले के स्वास्थ्य केन्द्रों में सीएससी में कुनकुरी, बगीचा, तथा पीएससी में आरा, कुर्रेग तथा भेलवां को सांत्वना पुरस्कार प्राप्त हुआ।मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा है कि प्रदेश के सरकारी अस्पताल आम जनता को प्राईवेट अस्पतालों से ज्यादा बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान कर रहे हैं। सभी के सामूहिक प्रयासों से प्रदेश के शासकीय अस्पतालों में स्वास्थ्य अधोसंरचना, कार्य संस्कृति में बड़ा बदलावा आया है। जनता के बीच शासकीय अस्पतालों की विश्वसनीयता बढ़ी है। मुख्यमंत्री ने आज रात यहां स्वच्छता और संक्रमण नियंत्रण प्रक्रिया के पालन में प्रदेश के सर्वश्रेष्ठ शासकीय अस्पतालों के राज्य स्तरीय पुरस्कार वितरण समारोह ’कायाकल्प योजना 2017’ को सम्बोधित करते हुए इस आशय के विचार प्रकट किए। उन्होंने कहा कि इस योजना के माध्यम से शासकीय अस्पतालों के बीच एक स्वस्थ प्रतिस्पर्धा प्रारंभ हुई है। आज दूरस्थ अंचलों के शासकीय अस्पताल बेहतर काम कर रहे हैं। उन्होंने समारोह में पुरस्कृत होने वाले सभी अस्पतालों के चिकित्सकों और पैरामेडिकल स्टाफ को बधाई और शुभकामनाएं दी। कार्यक्रम की अध्यक्षता लोकसभा सांसद रमेश बैस ने की।
उल्लेखनीय है कि वर्ष 2015 में जिला अस्पताल कायाकल्प योजना अंतर्गत राज्य में दूसरे स्थान पर रहा था। जबकि बीते साल अस्पताल को सांत्वना पुरस्कार मिला था। अस्पताल प्रबंधन और कर्मचारियों ने पूरे उत्साह के साथ इस वर्ष जिला अस्पताल की हर छोटी से छोटी व्यवस्था को दुरूस्थ किया एवं अस्पताल में आने वाले हर मरीज एवं उनके परिवारजनों की हर छोटी से छोटी सुविधा का ख्याल रखा गया। कायाकल्प योजना के तहत 27 जिले के जिला अस्पतालों की अगस्त से अक्टूबर तक निरीक्षण टीम द्वारा जाँच की गई थी। जशपुर में निरीक्षण के लिए अंबिकापुर जिले की टीम आई थी। इसके बाद राज्य की टीम ने भी इसका जायजा लिया था। इस निरीक्षण के बाद अस्पताल में उपकरणों के रख-रखाव, स्वच्छता, वेस्ट मैनेजमेंट, वेस्ट मैनेजमेंट, संक्रमण सहायक सेवाएं और स्वच्छता पर अंक दिए गए थे। जांच सफ़ाई, रिकॉर्ड मेनटेंस, बाहरी वातावरण समेत दस बिंदू पर की गई थी।
कलेक्टर डॉ. प्रियंका शुक्ला ने स्वास्थ्य विभाग के सभी कर्मचारियों को बधाई दी है। और यह उम्मीद जताई है कि आनेवाले वर्षां में भी जिला चिकित्सालय हमेशा पहले स्थान पर ही रहेगा। श्री तिवारी ने बताया कि पुरस्कार में मिले राशि का खर्च अस्पताल को मेनटेन करने के लिए एवं जनता व कर्मचारियों के सुविधाओं और जरूरतों पर ख़र्च की जाएगी।कायाकल्प योजना में जशपुर जिला अस्पताल ने बाजी मारी, जिसे 50 लाख रुपए दिए गए, जबकि दूसरे नंबर पर बीजापुर, तीसरे नंबर पर धमतरी जिला अस्पताल रहा। सीएम ने सभी पुरस्कार पाने वाले को बधाई दी। कार्यक्रम की अध्यक्षता लोकसभा सांसद रमेश बैस ने की। समारोह में स्वास्थ्य मंत्री अजय चंद्राकर, संसदीय सचिव शिवशंकर पैकरा और विधायक श्रीचंद सुंदरानी विशेष अतिथि थे। सीएम ने कहा- जब भी जरूरत होती है, मैं भी शासकीय अस्पताल में जाता हूं। हाल ही में मेरी बहू की डिलीवरी राजधानी डॉ. अम्बेडकर चिकित्सालय में हुई। स्वास्थ्य मंत्री अजय चंद्राकर ने कहा कि 24 मार्च 2018 को राजधानी रायपुर के डीकेएस अस्पताल का कायाकल्प हो जाएगा और यह आम जनता की सेवा में तत्पर रहेगा।

इन श्रेणियों में बंटे पुरस्कार-

जिला अस्पताल श्रेणी-

जिला चिकित्सालय श्रेणी में प्रथम पुरस्कार जिला चिकित्सालय जशपुर को 50 लाख रुपए, द्वितीय पुरस्कार जिला चिकित्सालय बीजापुर को 20 लाख रुपए, तृतीय पुरस्कार चिकित्सालय धमतरी को तीन लाख रुपए प्रदान किया गया। कोरबा जिला अस्पताल को स्वच्छता में लगातार बेहतर प्रदर्शन के लिए 5 लाख रुपए का पुरस्कार दिया गया।

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र श्रेणी-

स्वास्थ्य केन्द्रों की श्रेणी में प्रथम पुरस्कार कोरबा जिले के सीएचसी कटघोरा को, द्वितीय पुरस्कार सरगुजा जिले की सीएचसी उदयपुर को दिया गया। इस श्रेणी में 70 प्रतिशत से अधिक अंक प्राप्त करने वाले सामुदायिक केंन्द्रों को एक-एक लाख रुपए दिए गए।

प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र श्रेणी-

प्रथम पुरस्कार बलरामपुर जिले की पीएचसी मुरकोल को, द्वितीय पुरस्कार कोरबा जिले की पीएचसी लेमरू को दिया गया। प्रथम पुरस्कार के रूप में दो लाख, द्वितीय पुरस्कार के रूप में 50 हजार रुपए प्रदान किए गए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *