May 11, 2021
Breaking News

बिहार सरकार की तर्ज पर छत्तीसगढ़ में भी बीमा कवर लागू हो पुरानी पेंशन बहाल *हो—राजू टंडन  प्रदेश मीडिया प्रभारी*

बिहार सरकार की तर्ज पर छत्तीसगढ़ में भी बीमा कवर लागू हो पुरानी पेंशन बहाल *हो—राजू टंडन  प्रदेश मीडिया प्रभारी*

छत्तीसगढ़ सहायक शिक्षक फेडरेशन के प्रदेश अध्यक्ष मनीष मिश्रा जी एवं प्रांतिय टीम द्वारा समय-समय पर पिछली विगत 1 साल से हमारी मांगे हमारे संगठन की ओर से मुख्यमंत्री को चाहे स्वास्थ्य मंत्री को लगातार हम अपनी मांगों को पहुंचा रहे हैं आज तक हमारी स्थिति जस की तस है सरकार हमारी मांगों को सुन नहीं रही है नहीं अधिकारी जो है बातों को आगे बढ़ा पा रही है ड्यूटी के ऊपर ड्यूटी लगाया जा रहा है 400 से अधिक  शिक्षक संक्रमित हो करके अपनी जान गवा चुके हैं परिवार बिखर चुके हैं उसके बावजूद सरकार द्वारा ध्यान नहीं दिया जा रहा है तत्काल इस बात को संज्ञान में लेते हुए बिहार सरकार की तर्ज पर विशेष अनुकंपा मानते हुए अनुकंपा नियुक्ति दिया जाए एवं परिवारों को  तत्काल राहत देते हुए 50 लाख का बीमा उसके परिवार को सौंपा जाए एवं तत्काल अनुकंपा नियुक्ति दिया जाए अनुकंपा नियुक्ति की जो नियम है वह कठिन है उसके शिथिल करते हुए अनिवार्य अनुकंपा दिया जाए छत्तीसगढ़ शासन द्वारा इस प्रकार दोहरा नीति अपनाई जा रही है एक तरफ अन्य वर्ग कर्मचारियों को बीमा कवर दिया जा रहा है कोरोना योद्धा का दर्जा दिया जा रहा है लेकिन शिक्षक संवर्ग एक ऐसा संवर्ग है जो बहुत अधिक संख्या में कोरोना काल में ड्यूटी रहत है उसके बावजूद हमको कोरोना योद्धा का दर्जा नहीं दिया जा रहा है बीमा कवर नहीं दिया जा रहा है अन्य राज्यों की तुलना करें तो सबसे पहले शिक्षक संवर्ग को ही कोरोना वारियर्स का दर्जा दिया गया है चाहे बिहार ले लो चाहे मध्य प्रदेश किसी भी राज्य में सबसे ज्यादा संख्या शिक्षक संवर्ग कि ड्यूटी लगाया गया है परिवार सहित 400 शिक्षक संवर्ग अपनी जान गवा चुके हैं सरकार तक अपनी बात पहुंचा रहे हैं उसके बावजूद सरकार अनसुनी कर रही है टोटल अगर हम करें तो लगभग 12 सौ की संख्या में हमारे शिक्षक परिवार के लोग संक्रमित हुए हैं और अपनी जान गवा चुके हैं जिसमें से ड्यूटी रख 400 लगभग कर्मचारी है जो अपनी जान गवा चुके हैं संक्रमित हो करके ड्यूटी के समय में जिस प्रकार प्रियंका गांधी जी उत्तर प्रदेश पंचायत चुनाव में 700 शिक्षकों की जान चली गई बता रही है तो उसी की सरकार छत्तीसगढ़ में है भूपेश बघेल जी को बताएं कि यहां भी 400 शिक्षकों की जान जो है ड्यूटी के समय चली गई है इसलिए यहां 50 लाख का बीमा कवर किया जाए तत्काल कार्यवाही किया जाए यह जानकारी प्रदेश मीडिया प्रभारी  राजू टंडन ने जारी प्रेस नोट में दी है 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *