June 24, 2021
Breaking News

ये स्कूल सरकारी नाव के हे, असल म येहर हमर गांव के हे. हमर स्कूल, हमर गांव येला सजाबो सवारबो अऊ उन्नत बना बो – सतीश कुमार पांडे जिला शिक्षा अधिकारी

ये स्कूल सरकारी नाव के हे, असल म येहर हमर गांव के हे. हमर स्कूल, हमर गांव येला सजाबो सवारबो अऊ उन्नत बना बो – सतीश कुमार पांडे जिला शिक्षा अधिकारी
*विद्यार्थियों के शिक्षा और संस्कार व विद्यालय के विकास में ग्रामीण ,एस एम सी व एसएमडीसी सदस्यों की भूमिका अहम – प्रभा साव*
विद्यालय, विद्यार्थी एवं शिक्षक के विकास के लिए स्कूल शिक्षा विभाग जिला कोरबा द्वारा चलाए जा रहे एसएमडीसी तथा एसएमसी सदस्यों का प्रशिक्षण कार्यक्रम के तहत संकुल केन्द्र आमाटीकरा मे एस एम सी एवं एसएमडीसी की सदस्यों का उन्मुखीकरण कार्यशाला के तहत दल क्रमांक 11 द्वारा शिक्षकों तथा एसएमडीसी तथा एसएमसी के सदस्यों को का प्रशिक्षण व्याख्याता प्रभा साव के नेतृत्व में दिया गया.
प्रशिक्षण में कुल 42 सदस्य उपस्थित थे कार्यक्रम का उद्घाटन सरस्वती वंदना मधुलिका दुबे और राजकीय गीत के प्रस्तुतीकरण रुपेश चौहान के द्वारा किया गया . एसएमडीसी और एसएमसी का गठन क्यों किया गया इस पर मार्गदर्शक फरहाना अली प्राचार्य और सर्वेश सोनी प्रधान पाठक द्वारा प्रकाश डाला गया।
व्याख्याता प्रभा साव द्वारा एसएमसी तथा एसएमडीसी के सदस्यों की विद्यालय तथा विद्यार्थियों के विकास में भूमिका एवं शिक्षकों तथा पालक एवं ग्रामीणों के बीच सकारात्मक संबंध स्थापित कर बच्चों के विकास के लिए किए जाने वाले कार्य के बारे में चर्चा किया गया.
व्याख्याता ममता राजपूत द्वारा स्कूल में शिक्षकों की भागीदारी कैसे बढ़ाएं तथा एसएमडीसी तथा एसएमसी के सदस्य उनकी सहयोग किस तरह से कर सकते हैं इस पर चर्चा किया गया .।
शिक्षिका मधुलिका दुबे द्वारा यह बताया गया है कि किस तरह से उनके विद्यालय में एसएमसी के सदस्यों के द्वारा विद्यालय के विकास में योगदान प्रदान किया गया . शिक्षक रूपेश चौहान द्वारा विद्यालय के विकास में विद्यार्थी तथा ग्रामीणों के सहयोग में अपने द्वारा किए गए कार्यों के बारे में बताते हुए कहा कि हमको सकारात्मक ऊर्जा के साथ विद्यालय के विकास में कार्य करते रहना चाहिए.
संकुल प्राचार्य टी .आर. पी. सिंह ने संकुल के सभी शिक्षकों तथा एसएमडीसी के सदस्यों को आपस में मिलकर कार्य करने को के लिए प्रेरित किया. एसएमडीसी तथा एस एम सी सदस्य पंचराम मरकाम जी , सेवती बंजारे , देवराज सिंह जी,एवम अनेक सदस्यों ने उदबोधन दिया.। सभी ने आपसी सहयोग के द्वारा विद्यालय के विकास में योगदान के लिए कार्य करने की बात स्वीकारी. मार्गदर्शक टीम के सदस्यों मे विश्वनाथ कश्यप, राकेश टंडन , प्रभा साव , ममता सिंह राजपूत , मधुलिका दुबे ,रुपेश चौहान, सुनिता कश्यप ,मुकुन्द उपध्याय उपस्थिति थे .

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *