July 25, 2021
Breaking News

चाबहार पोर्ट से पाकिस्तान को निपटाया अब INSTC से चीन को टक्कर देगा भारत

मुंबई को सैंट पीटर्सबर्ग से जोड़नेवाला अंतरराष्ट्रीय उत्तरी-दक्षिणी परिवहन गलियारा (INSTC) अगले महीने के मध्य से संचालित होनेवाला है। इस गलियारे से पहली खेप भारती की ओर से रूस को मिलेगी। अंतरराष्ट्रीय व्यापार के मोर्चे पर चीन को टक्कर देने के लिए पिछले 17 सालों से इस प्रॉजेक्ट पर काम चल रहा है। भारत के लिए ईरान के चाबहार बंदरगाह के बाद मध्य एशिया और उसके बाजार तक पहुंचने का यह दूसरा सुगम मार्ग होगा।मामले के एक जानकार के मुताबिक, हालांकि INSTC का औपचारिक उद्घाटन जनवरी के मध्य महीने में होगा, लेकिन इस पर पूरी तरह आवाजाही अगले कुछ महीनों के बाद ही हो पाएगी। अधिकारियों ने बताया कि कॉरिडोर को सभी पहलुओं से दुरुस्त करने के लिए युद्धस्तर पर काम हो रहा है। बताया जा रहा है कि रूस का एक रेलवे ऑपरेटर इस प्रॉजेक्ट में अहम भूमिका निभाएगा।

भारत, ईरान और रूस ने सितंबर 2000 में INSTC अग्रीमेंट पर दस्तखत किया था। इसके तहत हिंद महासागर ओर फारस की खाड़ी को ईरान और सैंट पीटर्सबर्ग के रास्ते कैस्पियन सागर से जोड़ते हुए सबसे छोटा बहुआयामी परिवहन मार्ग तैयार किए जाने पर सहमति बनी थी। रसियन फेडरेशन के जरिए उत्तरी यूरोप तक सहज पहुंच हो जाएगी। इस कॉरिडोर की अनुमानित क्षमता प्रति वर्ष 2 से 3 करोड़ टन वस्तुओं की ढुलाई की है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *