July 26, 2021
Breaking News

ABVP की पहल से संत गहिरा गुरु विश्वविद्यालय करेगा परीक्षा शुल्क वापस

विगत दो वर्षों से अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद द्वारा संत गहिरा गुरु विश्वविद्यालय, अम्बिकापुर द्वारा लिए गए परीक्षा शुल्क को वापसी करने के संबंध में निरंतर संघर्ष करने के फल स्वरुप आज विद्यार्थी समुदाय के साथ संघर्षरत अभाविप की जीत हुई, अब लिया गया परीक्षा शुल्क वापस होगा।
आपको बता दें विद्यार्थी परिषद का स्पष्ट मत है कि जो निर्धारित परीक्षा शुल्क है वह भौतिक रूप से आयोजित होने वाली परीक्षा के अनुरूप लिया गया है लेकिन विश्वव्यापी महामारी कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण के कारण ऑनलाइन रूप से परीक्षा का आयोजन विगत 2 वर्षों से हो रहा है जहां विद्यार्थियों को स्वंत: ही उत्तर पुस्तिका का क्रय, प्रश्न पत्र प्रिंट, लिफाफा क्रय तथा कोरियर खर्च उठाना पड़ रहा है। जबकि विद्यार्थियों से विश्वविद्यालय द्वारा अत्याधिक मात्रा में परीक्षा शुल्क लिया गया है।
अभाविप ने अपनी एक मांग के साथ लगातार संघर्ष किया है कि विद्यार्थियों को परीक्षा शुल्क कि यथोचित राशि जिससे कि विद्यार्थियों की परीक्षा सामग्री जिसका उपयोग वर्तमान मुख्य परीक्षा में हो रहा हैं वो इन्हें वापस किया जाय, इसको लेकर अभाविप ने लगातार ज्ञापन और आंदोलन के माध्यम से विद्यार्थियों की आवाज को मिलकर बुलंद किया।
अभाविप के जशपुर जिला संयोजक गुलशन पांडेय ने बताया कि एक परीक्षा के लिए विद्यार्थी दो-दो बार राशि क्यों लगाएं, एक बार संपूर्ण खर्च जोड़कर विश्वविद्यालय परीक्षा शुल्क वसूलता है फिर विद्यार्थियों को यह कहा जाता है कि उत्तर पुस्तिका, प्रश्न पत्र प्रिंट, लिफाफा और कोरियर के खर्च की व्यवस्था विद्यार्थी को स्वयं करनी है इसी बात का कड़ा विरोध करते हुए अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने एक सप्ताह पूर्व ज्ञापन सौंपकर वापसी की मांग की तथा यह चेतावनी भी दी कि परीक्षा शुल्क वापसी ना होने की स्थिति में उग्र आंदोलन हेतु विश्वविद्यालय प्रशासन को अपनी कमर कस लेनी चाहिए अंततः विद्यार्थी परिषद की मेहनत रंग लाई 23 जून बुधवार को संत गहिरा गुरु विश्वविद्यालय के कार्यपरिषद की बैठक जहां प्रभारी कुलपति और कुलसचिव की उपस्थिति में चल रही थी वहां अखिल अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ता पहुंच कर उग्र हो गए पुलिस तथा प्रशासनिक अमले के बार-बार समझाइस के बाद भी अभाविप के कार्यकर्ता नहीं माने और बैठ गए कार्यकर्ताओं की एक मांग रही की विश्वविद्यालय कार्यपरिषद की बैठक में जो भी निर्णय परीक्षा शुल्क वापसी को लेकर के हो वह सार्वजनिक रूप से बताया जाए फल स्वरूप विश्वविद्यालय के कुलसचिव विनोद विनोद एक्का ने आकर छात्रों को बताया कि परीक्षा शुल्क वापसी होगी परिषद द्वारा पूछे जाने पर उन्होंने स्पष्ट किया की शुल्क वापसी होगी लेकिन कैसे कब और कितनी होगी इस पर चर्चा अभी बाकी है इसके लिए एक समिति बनाई जाएगी जो कि निर्धारित करेगी कि विद्यार्थियों के शुल्क में से कितनी राशि वापस की जाए और किस माध्यम से किया जाए। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद अपने इस सफलता सफलता के बाद विश्वविद्यालय का धन्यवाद करते हुए अपने आंदोलन को समाप्त किया उक्त कार्यक्रम में सैकड़ों की संख्या में कार्यकर्ता उपस्थित रहे जिसमे जशपुर से मुख्य रूप से , जिला संग़ठन मंत्री शशांक पांडेय ,व जिला सयोंजक गुलशन पांडेय, एवं प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य विवेक दुबे,नगर उपाध्यक्ष वीरेंद्र यादव, जिला कार्यकारिणी सदस्य गगन यादव, विकाश भगत इत्यादि कार्यकर्ता उपस्थित रहे |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *