November 29, 2021
Breaking News

जशपुर: तुम मुझे पैसा दो मैं तुम्हे आवास दूंगा,प्रधानमंत्री आवास योजना का बुरा हाल पत्थलगांव क्षेत्र में

जशपुर: तुम मुझे पैसा दो मैं तुम्हे आवास दूंगा,प्रधानमंत्री आवास योजना का बुरा हाल पत्थलगांव क्षेत्र में

                                         हरित छत्तीसगढ़ विवेक तिवारी पत्थलगांव।

तुम मुझे पैसा दो मै तुम्हे रहने को घर दूंगा ठीक ऐसा ही मामला सामने आया है जशपुर जिले के पत्थलगांव ग्राम घरजियाबथान में यहां हितग्राहियों ने आरोप लगाया है जिम्मेदार जनप्रतिनिधि और सचिव उनसे प्रधानमंत्री आवास का लाभ दिलाने की बात कहते हुवे दस दस हजार की मांग करते है उनके द्वारा पैसे नही देने पर योजना से वंचित किये जाने की बात कही जाती है। तुम मुझे पैसा दो मई तुम्हे आवास दूंगा जैसा डायलॉग इस जगह पूरी तरह चरितार्थ होते दिख रही है किस तरह से सरपंच, सचिव के द्वारा दबाव डालते हुवे प्रधानमंत्री आवास योजना के हितग्राहियों से घर बनाने की जगह देने के नाम पर प्रत्येक हितग्राही से दस दस हजार रुपये की मांग की है। उन्होंने यह भी आरोप लगाया है कि घर बनाने के लिए गिराया गया ईट, बालू को भी सरपंच, सचिव के द्वारा बेच दिया गया। हितग्राहियों के द्वारा इस मामले की जानकारी आवेदन के जरिये कलेक्टर को जनदर्शन के कार्यक्रम में भी अवगत कराया गया है। वहीं एसडीएम ने मामले की जांच कर कार्यवाही करने की बात कही है।
प्रधानमंत्री आवास योजना भारत सरकार की एक योजना है जिसके माध्यम से ग्रामीण क्षेत्रो में रहने वाले निर्धन लोगों को उनके अनुकूल घर प्रदान किये जाएँगे। इस योजना का उद्देश्य 2022 तक सभी को घर उपलब्द करना है। इस के लिए सरकार 20 लाख घरो का निर्माण करवाएगी जिनमे से 18 लाख घर झुग्गी –झोपड़ी वाले इलाके में बाकि 2 लाख शहरों के गरीब इलाकों में किया जाएगा। प्रधानमंत्री हर गरीब के सिर पर छत हो, इस उद्देश्य से सरकार द्वारा प्रधानमंत्री आवास योजना चलाई जा रही है, लेकिन गरीबों के इस सपने पर भी भ्रष्टाचारियों की नज़र लग चुकी है। पत्थलगांव के घरजियाबथान में ग्रामीणों ने इस योजना में भी भ्रष्टाचार के आरोप लगाए लगाए हैं। केंद्र सरकार द्वारा गरीब परिवार के सिर पर छत मुहैया कराने के उद्देश्य से प्रधानमंत्री आवास योजना चलाई जा रही है। इस योजना गरीबों के चेहरों पर खुशी की लहर देखने को मिली, क्योंकि आज के दौर में अपना मकान होना एक बड़ी बात है। लेकिन गरीबों के इस सपने पर भ्रष्टाचारियों की नज़र लग चुकी है। सरकार के इस सपने को सरकारी तंत्र और ग्राम के सरपंच, सचिव ने मिलकर भ्रटाचार की भेंट चढ़ा दी है।ऐसे ही मामला पत्थलगांव के घरजियाबथान का है जहां ग्रामीणों के प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत बनाये जा रहे आवास आज भी अधूरे पड़े है। ग्रामीणों का आरोप है कि सरपंच, सचिव के द्वारा प्रधानमंत्री आवास योजना में जमकर भ्रष्टाचार किया जा रहा है। हितग्राहियों में नैहयर साय, उर्मिला ख़लखो, अमृता कुजूर, मंजू कुजूर, तरसिला कुजूर, बुखनी बाई, राउत यादव, बुधियारो, टरसीला ने बताया कि गांव के सरपंच तिरपन एक्का, उपसरपंच पवित्र मोहन बेहरा, सचिव जोगेंदगरो यादव ने धोखाधड़ी करके आवास के नाम पर जगह देने के नाम पर प्रति आवास 10 हज़ार रुपये वसूल किए हैं। इतना ही नही उनके द्वारा पैसे के साथ साथ मकान बनाने हेतु ईट और बालू रखा गया था उसे भी बेच दिया गया। प्रधानमंत्री आवास योजना में हो रहे इस भ्रष्टाचार की शिकायत ग्रामीणों ने जिलाधिकारी से की है। वही पत्थलगांव एसडीएम विजय खेस ने बताया कि शिकायत के आधार पर हितग्राहियों का बयान लिया जा रहा है , जांच प्रक्रिया पूरी होते है उचित कार्यवाही की जावेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *