August 5, 2021
Breaking News

कांग्रेस के बयानवीरों को लेकर राहुल ने चेताया कहा- PM उपर कुछ बोला तो खैर नहीं

कांग्रेस के बयानवीरों को लेकर राहुल ने चेताया कहा- PM उपर कुछ बोला तो खैर नहीं
गुजरात विधानसभा चुनाव के लिए मतदान से पहले मणिशंकर अय्यर के नीच वाले बयान के बाद कांग्रेस हाईकमान ने अपने नेताओं के लिए सख्त निर्देश जारी किए हैं. कांग्रेस ने अपने सभी नेताओं से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनके भाषण पर किसी भी तरह की प्रतिक्रिया देने से मना किया है.
पार्टी ने कहा है कि अगर किसी कांग्रेसी नेता ने पीएम मोदी और उनके भाषण पर बयानबाजी की, तो उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी. राहुल गांधी ने कांग्रेस के भावी अध्यक्ष के तौर पर इस बाबत एडवाइजरी जारी की है. इससे पहले राहुल गांधी ने बतौर पार्टी उपाध्यक्ष भी ऐसा निर्देश दिया था. इसके बावजूद कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर ने पीएम मोदी को नीच आदमी कहकर पार्टी के लिए मुश्किलें खड़ी कर दी.
गुजरात विधानसभा चुनाव से ठीक पहले अय्यर के अपशब्द ने बीजेपी को बैठे-बैठाए हमला करने का हथियार दे दिया है. अब बीजेपी की पूरी चुनावी रणनीति कांग्रेस नेताओं की बदजुबानी पर केंद्रित हो गई है. पीएम मोदी भी इस मसले पर कांग्रेस को बख्शने के मूड में नहीं है. लिहाजा वो अपनी चुनावी रैलियों में कांग्रेस नेताओं की बदजुबानी को जोरशोर से जनता के सामने उठा रहे हैं.
शुक्रवार को अहमदाबाद के निकोल में अपनी चुनावी रैली को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने चुन-चुनकर कांग्रेस नेताओं को निशाना बनाया. उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और उनके परिवार को भी लपेटा. मोदी ने कहा कि यह पहली बार नहीं है, जब कांग्रेस के नेताओं ने मुझे नीच कहा है. कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और उनके परिवार वाले भी मेरे खिलाफ ऐसी अभद्र भाषा का इस्तेमाल करते रहे हैं.
चुनावी रैली को संबोधित करते हुए पीएम ने कहा, ”कांग्रेस के नेताओं ने मुझे कभी चायवाला, नीच, पागल कुत्ता, भस्मासुर, रावण, नाली का कीड़ा, सांप-बिच्छू और न जाने क्या-क्या कहा, लेकिन मैं चुपचाप सहता रहा, क्योंकि मेरी प्राथमिकता काम करने की है.” कांग्रेस पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा, ”लोकसभा चुनाव के दौरान कांग्रेस नेता इमरान मसूद ने कहा था कि मैं मोदी के टुकडे़-टुकड़े कर डालूंगा. उसको कांग्रेस ने लोकसभा चुनाव में टिकट भी दिया था. कांग्रेस नेता रेणका चौधरी ने मुझे वायरस कहा. चौधरी ने कहा कि मैं नमोनाइटिस लाता हूं.”
मोदी ने कहा , ”कांग्रेस के नेता जयराम रमेश ने मेरी तुलना भस्मासुर से की. कांग्रेस नेता बेनी प्रसाद वर्मा ने मुझे पागल कुत्ता कहा. वर्मा ने यह भी कहा कि हम इस पागल कुत्ता को चुनाव नहीं जीतने देंगे. इसके अलावा कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने मुझे गंगू तेली कहा.” उन्होंने कहा, ‘कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह ने मेरी सरकार को राक्षस राज और मुझे रावण तक कहा. यूपी कांग्रेस के प्रमुख प्रमोद तिवारी ने मुझे हिटलर, मुसोलिनी और गद्दाफी तक कहा. कांग्रेस ने मुझे दिन-रात गाली दी, लेकिन मैं शांति रहा. इसकी वजह यह है कि मेरी प्राथमिकता काम करना है.”
वहीं, बीजेपी और पीएम मोदी के हमले के बाद से कांग्रेस बैकफुट पर है. कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने अपने नेताओं से मोदी के भाषण पर प्रतिक्रिया नहीं देने को कहा है. हालांकि अब इसका पता 18 दिसंबर को चलेगा कि बीजेपी और पीएम मोदी कांग्रेस नेताओं के अपशब्दों को गुजरात चुनाव में कितना भुना पाते हैं. मालूम हो कि गुजरात में 9 दिसंबर और 14 दिसंबर को मतदान होने हैं. इसके बाद 18 दिसंबर को नतीजे आएंगे.
गुजरात में बोले राहुल- सरदार पटेल न मोदी के न मेरे
गुजरात के आनंद में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा, ”सरदार पटेल जी न नरेंद्र मोदी जी के हैं, न राहुल गांधी के हैं, न सोलंकी जी के हैं और मैं सच बोलूं, तो न गुजरात के हैं, न हिंदुस्तान के हैं, बल्कि पूरी दुनिया के हैं.” उन्होंने कहा कि सरदार पटेल इतनी छोटी चीज हैं नहीं कि किसी के हो सकते हैं. वो बहुत बड़ी चीज हैं. गुजरात के दिल के अंदर एक आवाज है, जिसको उन्होंने पहचाना और जिसके लिए वो लड़े. इससे बड़ी चीज हो ही नहीं सकती.
राहुल गांधी ने कहा कि आपने कहा यहां उनकी (सरदार पटेल) कर्मभूमि है और उनका आदर करना चाहिए. कांग्रेस उनका आदर करेगी. लेकिन कभी कभी लगता है कि सरदार पटेल हों, महात्मा गांधी हों या सुभाष चंद्र बोस हों, इन लोगों को प्रोडक्ट बना रखा है. इस दौरान राहुल गांधी ने चुनाव में जीत को लेकर भी उम्मीद जताई.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *