September 17, 2021
Breaking News

कुपोषण दूर करने सुपोषित आहार वितरण का कार्यक्रम पोषक तत्व की कमी दूर करके बच्चों को रखें सुपोषित: डा-मिंज

कुपोषण दूर करने सुपोषित आहार वितरण का कार्यक्रम
पोषक तत्व की कमी दूर करके बच्चों को रखें सुपोषित: डा-मिंज

हरितछत्तीसगढ़ विवेक तिवारी/संजय तिवारी पत्थलगांव।
बच्चों का खान पान में थोड़ी सी सावधानी बरत कर प्रत्येक माता उनके कुपोषण की बीमारी को दूर भाग सकती हैं।ग्रामीण अचंल में विटामिनयुक्त हरी साग सब्जी और खान पान के समुचित इंतजाम होने के बावजूद कई बच्चों में कुपोषण के लक्षण देखने को मिल जाते हैं। छोटे बच्चों की इस दुर्बलता को समय रहते दूर कर लेने की जरूरत है।
इसके लिये रविवार को समीप ग्राम गाला में ,एसडीएम प्रताप विजय खेस्स ने कुपोषित बच्चों को सुपोषित आहार वितरण का कार्यक्रम आयोजित किया था। इसमें आस पास के ग्रामीण अचंल से सौ से अधिक छोटे बच्चों को बुलाया गया था। इन बच्चों की माताओं को कुपोषण के लक्षण और उससे बचने के उपाय के संबंध में सिविल अस्पताल के बीएमओ डा- जेम्स मिंज ने विस्तृत जानकारी दी। उन्होने बताया कि कुपोषण के आहार में महत्वपूर्ण पोषक तत्व और खनिज कीकमी का ही परिणाम है शरीर की इस दुर्बलता पर लम्बे समय तक ध्यान नहीं देने से इसके घातक परिणाम भी आ सकते हैं।डा-मिंज ने बताया कि छोटे बच्चों में कुपोषण को दूर नहीं करने से उनके संक्रमण के लिये खतरा बढ़ जाता है। इस कार्यक्रम में महिला ,वं बाल विकास अधिकारी श्रीमती लुसिया साहु ने बताया बच्चों में कुपोषण एक गम्भीर स्थिति है। कुपोषण तब होता है जब किसी व्यक्ति के आहार में पोषक तत्वों की सही मात्रा नहीं होती है। हमारा भोजन में स्वस्थ्य रखने के लि, उर्जा और पोषक तत्व की पर्याप्त मात्रा मिल जाने से स्वास्थ्य पर विपरित प्रभाव नहीं पड़ता है। इसके विपरित इसकी कमी से कई बीमारियों में उलझ कर बच्चों का बचपना खराब कर देते हैं। उन्होने कहा कि ग्रामीणों व्दारा अपनी अज्ञानता के चलते कुपोषण को बढ़ा दिया जाता है। इससे बचने के लि, बच्चे की माता की थोड़ी सतर्कता से बड़ी परेशानी को दूर किया जा सकता है।
कुपोषण का शिकार बच्चों के चेहरों पर लौटी मुस्कान
एसडीएम प्रताप विजय खेस्स ने बताया कि शासन व्दारा कुपोषण की समस्या से जूझ रहे बच्चों को सुपोषित रखने के लिए काफी गम्भीर है।कुपोषण का शिकार बच्चों की अच्छी परवरिश के लिये गांव गांव में कार्यक्रम आयोजित कि, जा रहे हैं।श्री खेस्स ने बताया कि पंचायत में आयोजित इस वृहद कार्यक्रम के लिए पत्थलगांव के समाजसेवी श्रवण अग्रवाल ने सुपोषित आहार की समुचित व्यवस्था कराई है।उन्होने कहा कि इस तरह के नेक काम के लिए प्रत्येक व्यक्ति को अपना सहयोग देना चाहिए आपस में मिलजुल कर ही कुपोषण का शिकार छोटे बच्चों के चेहरे पर जल्द खुशियो की मुस्कान लौटाई जा सकती है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *