November 30, 2021
Breaking News

गरीबी, बिमारी व अशांति का मूल है नशापान – अशोक बजाज

 

गरीबी, बिमारी व अशांति का मूल है नशापान – अशोक बजाज

रायपुर।।
नशामुक्ति जन जागरण अभियान के अंतर्गत नवापारा राजिम में एक अनोखा नजारा देखने को मिला । जब लोंगों ने जलेबी का रसास्वादन करते हुए नशामुक्त समाज के निर्माण का संकल्प लिया । मजे की बात तो यह है कि मधुमेह की बिमारी से पीड़ित व्यक्तियों ने जलेबी खाने से परहेज नहीं किया । यह वाक्या नवापारा राजिम महाविद्यालय में आयोजित नशामुक्ति अभियान का है । अपेक्स बैंक के अध्यक्ष एवं ‘‘नशा है खराब, झन पीहू शराब’’ का नारा प्रदेश में गुजायमान करने वाले अशोक बजाज की उपस्थिति में आइडियल छत्तीसगढ़ ग्लोेेबल इडीफाईंग फाउण्डेशन रायपुर ने आयोजित किया था । इस अवसर पर श्री बजाज ने कहा कि नशापान से आर्थिक, शारीरिक एवं मानसिक तीनों प्रकार की क्षति होती है । यदि हमें नई पीढ़ी का भविष्य संवारना है तो समाज को नशामुक्त करना होगा । उन्होने कहा कि गरीबी, बिमारी और अशांति का मूल कारण नशापान है, इसे जड़ से समाप्त करें । इस अवसर पर फाउण्डेशन के संयोजक नवल राठी, व्यापार प्रकोष्ठ के संयोजक वी. विश्वनाथन, नपा उपाध्यक्ष दयालूराम गाड़ा, प्रदीप सिंह, अजय सिंह ठाकुर, राजकुमार कसंारी, रमेश साहू, डाॅ. गदिया, प्राचार्य शोभा गावरी, पूर्व प्राचार्य हरिहरनों, अनिता दुबे, मायाराम साहू, दशरथ साहू, सोहेन्द्र साहू सहित काफी मात्रा में महाविद्यालयीन छात्र-छात्रायें उपस्थित थे । ज्ञातव्य हो कि श्री बजाज ने अपने जिला पंचायत अध्यक्षीय काल में ‘‘नशा है खराब, झन पीहू शराब‘‘ का नारा दिया था । 18 दिसम्बर को इस नारे को चलन में आये 10 वर्ष हो जायेंगें ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *