January 20, 2022
Breaking News

शहीद बालिदानी को विदाई देने उमड़ा नगर

सर्किट हाउस स्थित मुक्तिधाम में पूरे सैन्य और राजकीय सम्मान के साथ दी गई अंतिम ऐतिहासिक विदाई

हरित छत्तीसगढ़/रायगढ़.  मणिपुर आंतकी हमले में शहीद हुए रायगढ़ के होनहार कर्नल विप्लव त्रिपाठी पत्नी अनुजा व पुत्र अबीर त्रिपाठी को आज सर्किट हाउस स्थित मुक्तिधाम में पूरे सैन्य और राजकीय सम्मान के साथ उन्हें अंतिम विदाई दी गई। एक ओर जवानों ने गार्ड ऑफ ऑनर दिया वहीं हजारों लोगों ने नम आंखों से शहीद को अंतिम विदाई दी।  अपने लाडले वीर सपूत के अंतिम सफ़र में शहरवासियों ने अपनी ज़िम्मेदारी निभाई। अमर शहीद विप्लव त्रिपाठी के निवास स्थान से लेकर रामलीला मैदान तक शहीद परिवार को श्रध्दांजलि अर्पित करने लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा। शहीद विप्लव त्रिपाठी अमर रहे, भारत माता की जय के नारे लागते हुए त्रिपाठी व उनकी पत्नी व बेटे को नम आंखों से भावभीनी श्रद्धांजलि दी। असम राइफल्स की सेना के जवानों ने अपने शहीद साथी को सेल्यूट कर सलामी दी। निर्धारित समयानुसार रामलीला मैदान से शहीद की अंतिम यात्रा मुक्तिधाम की ओर रवाना हुई। हिन्दू परम्परा के अनुसार महिलाएं अंतिम संस्कार के लिए शमशान घाट नही जाती है परन्तु आज इस परंपरा को तोड़ते हुए हज़ारों की संख्या में महिलाए सर्किट हाउस मुक्तिधाम पहुँची और शहीद विप्लव त्रिपाठी व उनकी पत्नी व पुत्र के दाह संस्कार में शामिल हुई, कर्नल विप्लव त्रिपाठी को मुखाग्नि उनके छोटे भाई ने दी जो स्वयं भारतीय सेना में सेवारत हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *