December 4, 2021
Breaking News

कोंडागांव:विधायक ने की सांस्कृतिक भवन का हुआ भूमिपूजन

विधायक ने की सांस्कृतिक भवन का हुआ भूमिपूजन

कोंडागाँव :- क्षेत्रीय विधायक मोहन मरकाम के ग्राम देवी दर्शन के तहत मोटर साइकिल यात्रा के दौरान ग्राम बेड़ागाँव व नेवरा ग्रामीणों ने सांस्कृतिक भवन की मांग रखी थी… साथ ही विधुत आपूर्ति के लिए आवेदन किआ था… सांस्कृतिक भवन की मांग महज 3 महीनों के अंदर क्षेत्रीय विधायक मोहन मरकाम ने बस्तर विकास प्राधिकरण मद से ग्राम पंचायत बड़े सोहंगा के आश्रित ग्राम बेड़ागाँव व् छत्तीसगढ़ ग्रामीण विकास अभिकरण मद से ग्राम पंचायत क्षमतापुर के आश्रित ग्राम नेवरा को ग्रामीणों के मांग पर 3-3 लाख की लागत से सांस्कृतिक भवन की स्वीकृति दिलाई…

उक्त सांस्कृतिक भवनों का भूमि पूजन कार्यक्रम क्षेत्रीय विधायक के मुख्य आतिथ्य में में किआ गया… कार्यक्रम का संचालन जनपद सदस्य हेमलाल बघेल व चंदर बघेल के द्वारा किया गया…

ग्राम नेवरा व् बेड़ागाँव के सरपंचों ने अपने उद्बोधन में सांस्कृतिक भवन की स्वीकृति मिलने पर व विधुत विहीन क्षेत्रों में विधुत व्यवस्था करने के लिए विधायक का हृदय से आभार व्यक्त किया… साथ ही समस्त ग्रामीण व वृद्धजनों ने गांव के विधायक मोहन मरकाम का आभार व्यक्त किया… विधायक ने अपने उद्भोधन में कहा कि अपने विधान सभा क्षेत्र में विधुत विहीन गॉंवों में विधुत आपूर्ति के लिए में सदैव विधान सभा स्तर पर बात उठता रहा हूँ… लगातार प्रयासों से आज कोंडागांव के जंगल गावो में भी विधुत व्यवस्था हो गई है… इसके लिए स्थानीय निवासी श्री नवीन पोयाम जी कार्यपालन यंत्री विधुत विभाग का भी आभार व्यक्त करता हूँ, जिन्होंने तत्परता से हमारे उठाये गए प्रश्नों पर कार्यवाही की व प्रेषित प्रस्ताव पर कार्य किया…
आगे ग्रामीणों से कहा आपका साथ मुझे हमेशा से ही मिलता रहा है, आपके प्यार और आशीर्वाद के लिए बहुत बहुत धन्यवाद… आगे भी आप सभी का साथ मुझे मिलते रहे… यही आशा और विश्वास के साथ सदैव तत्परता से आगे भी अपने कर्तव्यों का निर्वहन करने का आश्वासन दिया… उक्त कार्यक्रम सांसद प्रतिनिधि राम कुमार कश्यप, जनपद पंचायत माकड़ी के सभापति गजेंद्र राठौर, ब्लाक कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष बिरस साहू, जनपद सदस्य मोतीलाल नाग, विधायक प्रतिनिधि शिशिर श्रीवास्तव, पार्षद आरती नेताम, ललिता मरकाम, मंगल साहू, हेमलाल वट्टी, नरेंद्र देवांगन, धनंजय उजाला, राधे लाल पोयाम, परेश्वर पोयाम, लखेश्वर पोयाम, गौर्तम पोयाम व् सैकड़ों ग्रामीणों की उपस्थिति थे ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *