January 20, 2022
Breaking News

गाय काटते पाए गए कई लोग,12 किलो मांस संग कांसाबेल पुलिस ने किया गिरफ्तार, गौ सेवा आयोग सदस्य त्रिपाठी ने कहा…..

गाय काटते पाए गए कई लोग,12 किलो मांस संग कांसाबेल पुलिस ने किया गिरफ्तार
कांसाबेल। छग सरकार गाय संरक्षण को लेकर सख्त है। इसके बावजूद ऐसे मामलों पर कोई लगाम लगती नहीं दिख रही है। ऐसे में कांसाबेल में पुलिस ने गाय काटते हुए 2 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। जिसमें पुलिस को देखकर कुछ लोग भागने मे सफल रहे। पुलिस ने उनके पास से 12 किलो मास बरामद कर लिया है। वहीं पकडे गये दोनों का मेडिकल कराया गया है।दरअसल पुलिस को सूचना मिली कि खूंटीटोली ग्राम में कुछ लोग अपने खेत में एक गाय को काट कर मांस का बंटवारा कर रहे हैं तो सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और दो लोग भदरूराम एवं कमलेश राम को रंगे हाथ पकड़ लिया वही पुलिस ने दोनों आरोपी के साथ अन्य चार पांच अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।
पुलिस ने पीछाकर मवेशी से लदे पिकअप पकड़ा
कांसाबेल थाने की पुलिस ने मोटर साइकल से पीछा कर तेज गति से भाग रहे पिकअप एवं उसमें लदे 9 मवेशियों को जब्त किया। थाना प्रभारी वँशनारायण शर्मा ने बताया कि मवेशी तस्करी के खिलाफ छापेमारी अभियान चलाया जा रहा है। इसी बीच पुलिस को गुप्त सूचना मिली थी कि कांसाबेल के रास्ते तस्कर मवेशियों को लेकर झारखंड जा रहे हैं। कांसाबेल चौक के पास सामने से बिना नंबर प्लेट के तेज गति से आ रहे पिकप को देखकर वहां मौजूद प्रधान आरक्षक प्रताप नारायण सिदार,आरक्षक सुदीप एक्का, अशोक पैकरा ने पिकअप को रुकवाने का प्रयास किया तो पिक अप और तेज गति से स्पीड चलते हुए वहां से भागने लगी पुलिस ने मोटरसाइकिल में पीछा कर पिकअप को पकड़ा इस दौरान पिकअप चालक मौके से भागने में सफल रहा पिकअप में 9 नग मवेशी रस्सी से बंधा मिला।
गौसेवा आयोग सदस्य शेखर त्रिपाठी ने वस्तु स्थिति की ली जानकारी
छग गौ सेवा के सदस्य शेखर त्रिपाठी ने गौकशी एवं पिकअप में मवेशी तस्करी के दोनों मामले में का शामिल पुलिस की सराहना करते हुए पूरे मामले से अवगत होते हुए गोकशी करने वाले आरोपियों को कड़ी सजा दिलवाने हेतु पुलिस कार्रवाई किए जाने एवं गौकशी के फरार आरोपी व मवेशी तस्करी में लिप्त फरार चालक को शीघ्र गिरफ्तार करने पुलिस को दिशा निर्देशित किए।उन्होंने कहा कि गौवंश की सुरक्षा उनका नैतिक जिम्मेदारी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *