January 20, 2022
Breaking News

अम्बिकापुर,स्वास्थ्य सचिव ने ली अधिकारियों की खबर, मेडिकल काउन्सिल ऑफ इण्डिया के मानकों का पालन करने के दिए निर्देश 

स्वास्थ्य सचिव सुब्रत साहू ने ली अधिकारियों की खबर
मेडिकल काउन्सिल ऑफ इण्डिया के मानकों का पालन करने के दिए निर्देश

हरितछत्तीसगढ़ रौशन वर्मा

अम्बिकापुर :- छत्तीसगढ़ शासन के स्वास्थ्य, परिवार कल्याण एवं चिकित्सा शिक्षा के प्रमुख सचिव  सुब्रत साहू द्वारा आज अम्बिकापुर स्थित मेडिकल कॉलेज का निरीक्षण कर विभागीय अधिकारियों को मेडिकल काउन्सिल ऑफ इण्डिया के मानकों के अनुरूप कक्षाओं का संचालन सुनिश्चित करने के निर्देष दिए।  साहू द्वारा मेडिकल कॉलेज के प्रशासनिक भवन, पुस्तकालय एवं छात्रावास का भी निरीक्षण करते हुए अधिकारियों को बेहतर व्यवस्थाएं करने के निर्देश दिए गए। उन्होंने पुस्तकालय के निरीक्षण के दौरान उपलब्ध सभी 1 हजार 943 पुस्तकों की एन्ट्री कम्प्यूटर में करते हुए साफ्ट कॉपी तीन दिवस के भीतर रायपुर सचिवालय में प्रेषित करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने स्पष्ट किया है कि निर्देशानुसार कार्यवाही नहीं करने पर संबंधितों के विरूद्ध नियमानुसार कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने लाईब्रेरियन रूपा वर्मा को  पुस्तकालय में विद्यार्थियों को प्रतिदिन पुस्तकें आबंटित करने के संबंध में विवरण देने के निर्देश दिए, किन्तु जानकारी नहीं देने पर अप्रसन्नता व्यक्त करते हुए कार्ड सिस्टम तत्काल लागू करने के निर्देश दिए। लाईब्रेरियन ने बताया कि पुस्तकालय का संचालन प्रातः 9 बजे से सायं 7 बजे तक किया जाता है। सुब्रत साहू द्वारा छात्रावास के कमरों, रसोई एवं वाशरूम का निरीक्षण कर बेहतर व्यवस्थापन के निर्देश दिए गए। उन्होंने रसोई में बनाए गए भोजन का भी निरीक्षण करते हुए विद्यार्थियों से भोजन की गुणवतता  के बारे में जानकारी प्राप्त की।  साहू ने मेडिकल कॉलेज प्रबंधन को सभी आवश्यक व्यवस्थाएं गुणवत्तापूर्ण सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। स्वास्थ्य सचिव द्वारा विद्यार्थियों के रीडिंग रूम, पर्सनल रिकार्ड, स्टोर आदि का निरीक्षण भी किया गया।  साहू ने मेडिकल कॉलेज की ओर आने वाली सड़क में स्थित पुलिया को डबल लेन बनाने के निर्देष दिए हैं। स्वास्थ्य विभाग के प्रमुख सचिव द्वारा मेडिकल कॉलेज हेतु आसपास स्थित लगभग 39 एकड़ भूखण्ड की जानकारी प्राप्त करते हुए कलेक्टर श्रीमती किरण कौशल को समीप स्थित लगभग 7 एकड़ नजूल भूमि को भी मेडिकल कॉलेज के उपयोग हेतु उपलब्ध कराने के लिए आवश्यक कार्यवाही करने निर्देशित किया। कलेक्टर ने तहसीलदार  रमेश मोर को मेडिकल कॉलेज हेतु प्रस्तावित भूखण्ड की विस्तृत जानकारी तत्काल उपलब्ध कराने कहा है। सरगुजा संभाग के कमिश्नर अविनाश चम्पावत ने तहसीलदार को मेडिकल कॉलेज के एक किलोमीटर की परिधि में आने वाले भूखण्डों की विस्तृत जानकारी प्रस्तुत करने के निर्देश दिए हैं।  साहू द्वारा मेडिकल कॉलेज के समीप स्थित कन्या शिक्षा परिसर के खाली पड़े भूखण्डों का भी अवलोकन किया गया। उन्होंने बताया कि आवश्यकतानुसार इन भूखण्डो का उपयोग भी मेडिकल कॉलेज के स्टॉफ के आवास निर्माण हेतु करने के संबंध में आवश्यक कार्यवाही की जाएगी। फिजियोलॉजी के विभाग प्रमुख डॉ. ए.आर. वर्मा ने बताया कि वर्तमान में गंगापुर स्थित मेडिकल कॉलेज में प्रथम वर्ष के तहत एनाटोमी, फिजियोलॉजी, बायोकेमेस्ट्री एवं कम्यूनिटी मेडिसीन का अध्यापन कराया जा रहा है। इसी प्रकार द्वितीय वर्ष के अध्यापन हेतु नर्सिंग कॉलेज के भवन में माइक्रोबायोलॉजी, पैथोलॉजी, फोरेन्सिक मेडिसीन एवं फॉर्मेकोलॉजी विषयों के लिए अध्यापन कक्षाओं का निर्धारण किया गया है। मेडिकल कॉलेज के तृतीय वर्ष में मेडिसीन सर्जरी, आर्थोपेडिक एवं स्त्री रोग संबंधी विषयों के अध्यापन के लिए मेडिकल कॉलेज सम्बद्ध जिला अस्पताल में आवश्यक कक्षों की व्यवस्था की गई है।  इस प्रकार मेडिकल काउन्सिल ऑफ इण्डिया के निर्देषानुसार आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित की गई है। निरीक्षण के दौरान स्वास्थ्य विभाग के संयुक्त संचालक डॉ. जी.एस. ठाकुर, अधीक्षक डॉ.ए.के. जायसवाल, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. एन.के. पाण्डेय,  प्रशासनिक अधिकारी  संदीप पैकरा सहित संबंधित विभागों के अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *