July 25, 2021
Breaking News

जूदेव के गढ़ में सेंधमारी को तैयार भूपेश, जशपुर और रायगढ़ जिले में होंगी कांग्रेस की पदयात्राएं

जूदेव के गढ़ में सेंधमारी को तैयार भूपेश, जशपुर और रायगढ़ जिले में होंगी कांग्रेस की पदयात्राएं

हरित छत्तीसगढ़ रायपुर: छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष भूपेश बघेल अब जूदेव नगरी में सेंध लगाने की तैयारी में जुट गये है कांग्रेस का मानना है की दिलीप सिंह जूदेव के निधन के बाद जूदेव राज परिवार के सदस्य अलग अलग दलों और खेमों में बटे है जिससे जिले में कांग्रेस की स्थिति सुधारते नजर आ रहे है वही थोड़ी अच्छी मेहनत किया जाए तो जिले में कांग्रेस काफी मजबूती से उभर सकती है यही वजह है की विधानसभा का शीतकालीन सत्र खत्म होने के बाद जशपुर जिले और रायगढ़ जिले में भूपेश बघेल कांग्रेस के आला नेताओ के साथ  पदयात्रा का कार्यक्रम तय करने की तैयारी में जुट गयी है इसी तरह  रायगढ़ जिला कभी कांग्रेस का गढ़ माना जाता था, लेकिन वहां भी कांग्रेस  की ताकत घटी है,लिहाजा फिर से अपनी ज़ड़ें मजबूत करने के लिए भूपेश बघेल ने इन दोंनों जिलों को टारगेट किया है। पदयात्रा के माध्यम से भूपेश इन जिलो में कांग्रेस कार्यकर्ताओ में नई जान फुकने की तैयारी में है साथ ही इस दौरान कुछ भाजपा नेताओ पर वे डोरे डालते दिखे तो कोई नई बात नही होगी विदित हो की भूपेश बघेल की अगुवाई में 12 दिसंबर को शिवरीनारायण से शुरू हुई जन अधिकार पदयात्रा ढाई दिन पहले ही स्थगित हो गई। इस यात्रा को जांजगीर से रायगढ़ जिले में पहुंचने से पहले ही रोकना पड़ा। राहुल गांधी की अध्यक्ष पद पर ताजपोशी के समारोह में शामिल होने के लिए भूपेश बघेल ने चंद्रपुर विधानसभा के सकर्रा गांव में ये यात्रा रोक दी। हालांकि कांग्रेस ने इसे जनवरी में सकर्रा से शुरू करके तीन दिनों में नंदेली पहुंचाने की योजना बनाई है, वहीं अब कांग्रेस ने रायगढ़ और जशपुर जिले में पदयात्राएं करने की योजना बनाई है। माना जा रहा है की  विधानसभा का शीतकालीन सत्र खत्म होने के बाद इन दोनों जिलों में पदयात्रा का कार्यक्रम तय किया जाएगा। दोनों जिलों में पांच.पांच दिनों की पदयात्रा करने की तैयारी की जा रही है।पदयात्रा की खबर के बाद से ही दोनों जिलो के कांग्रेसी में उत्साह का माहौल देखा जा रहा है वही भाजपा कांग्रेस के अगले रुख की और पैनी नजर लगाये हुवे है /बहरहाल जशपुर और रायगढ़ जिले की राजनीती  में दिलीप सिंग जूदेव व उनके परिवार का ख़ासा प्रभाव रहता है जिसके कारण एक बार फिर से भूपेश द्वारा जूदेव के गढ़ में सेंधमारी की योजना बनाई जा रही है/ हालांकि दोनों ही जिले के कांग्रेस के जिम्मेदार कार्यकर्ता लगातार कांग्रेस के वर्चस्व में वृद्धि करने दिनरात एक करते दिखाई दे रहे है  वही अगर जशपुर जिले की बात करे तो कभी भाजपा का गढ़ मने जाने वाले और जिस गढ़ में कद्दावर जनप्रतिनिधियों की भरमार हो जिस जिले में तीनो विधानसभा की सीट बीजेपी के पास हो जिसकी प्रदेश में सरकार हो उसी जिले में कोतबा,पत्थलगांव,बगीचा की नगरपंचायत में आज कांग्रेस काबिज दिख रही है वही रही सही कसर जशपुर नगरपालिका ने उतार दी जहा कांग्रेस के अध्यक्ष् के साथ साथ चार पार्षद भी कांग्रेस के है जिससे स्थानीय कांग्रेस कार्यकर्ताओ का नेतृत्व और कुशल मार्गदर्शन का परिणाम माना जा रहा है /यही वजह है की जूदेव के गढ़ में अब कांग्रेस की उम्मीद की किरण पहले से ज्यादा जोर से हिलोरे मारती नजर आ रही है आये दिनो जशपुर  जिला कांग्रेस अध्यक्ष पवन अग्रवाल को जिले के सुदूर इलाको में दौरा कर कांग्रेसके पक्ष में माहौल बनाते देखेने के बाद तो भविष्य के संकेत अभी से ही मिलने शुरू होते नजर आ रहे है/ 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *