October 18, 2021
Breaking News

मेधा पाटकर की आजादी की रात कटेगी जेल में!

गरीबों और विस्थापितों की लड़ाई लड़ने वाली नर्मदा बचाओ आंदोलन की मेधा पाटकर  27 जुलाई से धार जिले के चिखल्दा में  उपवास पर बैठीं थी इस सम्बन्ध में  मेधा पर चार मामले दर्ज किए गए थे , एक में जमानत मिल गई है, तीन पर सुनवाई 17 अगस्त को होगी, यानी 14-15 अगस्त की रात को वे जेल में रहेंगी। एसे में मेघा को आजादी की रात मध्यप्रदेश की धार जेल में काटनी होगी। विदित हो की मध्यप्रदेश में सरदार सरोवर बांध की ऊंचाई बढ़ने से डूब में आने वाले हजारों लोगों के हक के लिए बेमियादी अनशन कर रहीं नर्मदा बचाओ आंदोलन की नेता मेधा पाटकर को  इंदौर के बॉम्बे अस्पताल से निकालकर  बड़वानी जाते समय रास्ते में पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था . मेधा ने जब मुचलका भरने से इनकार कर दिया, तो उन्हें धार की जिला जेल भेज दिया गया था सरदार सरोवर बांध की ऊंचाई बढ़ाकर 138 मीटर किए जाने से मध्यप्रदेश की नर्मदा घाटी के 192 गांवों और इनमें बसे 40 हजार परिवार प्रभावित होने वाले हैं. पुनर्वास के लिए जहां नई बस्तियां बसाने की तैयारी चल रही है, वहां सुविधाओं का अभाव है. इसलिए अधिकांश लोग उन बस्तियों में जाने को तैयार नहीं हैं. मेधा इनके पुनर्वास के बेहतर इंतजाम की मांग को लेकर आंदोलन कर रही हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *