October 1, 2020
Breaking News

कुलभूषण की पत्नी की जूतियां जब्त जूते से जासूसी का शक ,पाकिस्तान का चेहरा बेनकाब

कुलभूषण की पत्नी की जूतियां जब्त जूते से जासूसी का शक ,पाकिस्तान का चेहरा बेनकाब
नई दिल्ली: कुलभूषण जाधव की उनकी मां और पत्नी से मुलाकात पर पाकिस्तान का एक और झूठ सामने आया हैं. पाकिस्तान ने कुलभूषण की पत्नी की जूतियां जब्त कर ली हैं और उनसे जासूसी का शक जताते हुए जांच के लिए भेजा है. पहले मंगलसूत्र, चूड़ियां फिर बिंदी और अब जूता कांड ने पाकिस्तान का चेहरा बेनकाब कर दिया है.

कांच की दीवार के पार अपने कलेजे के टुकड़े को छोड़, छलनी दिल लेकर लौटीं कुलभूषण की मां

खुद कुलभूषण जाधव की मां और पत्नी ने पाकिस्तान की पोल खोली है. दोनों ने विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से मुलाकात में अपने साथ हुए पाकिस्तानी दुर्व्यवहार की एक-एक जानकारी दी, जो बातें उन्होंने बतायी हैं उससे पाकिस्तान का नीच चेहरा बेनकाब हो गया है.

बार-बार मांगने के बाद भी वापस नहीं किया गया जूता

मुलाकात से पहले जाधव की मां और उनकी पत्नी का मंगलसूत्र, चूड़ियां और बिंदी को उतरवा दिया गया. जो कपड़े वो पहन कर आयीं थी मिलने से पहले उन्हें भी बदलवाया गया जाधव की पत्नी का जूता बार-बार मांगने के बाद भी वापस नहीं किया गया.

अधिकारियों को जूतों में कुछ फिक्स होने का शक हुआ- पाकिस्तान

जब जाधव की पत्नी चेतना जाधव जब मुलाकात के लिए गई थी उनके पैर में जूते थे, लेकिन जब वापस लौटे तो उनसे जूते उतरवा लिए गए. जूते न देने पर पाकिस्तान ने एक और झूठा दावा किया है. पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय का कहना है कि जाधव की पत्नी के जूते जब्त किए गए, क्योंकि अधिकारियों को जूतों में कुछ फिक्स होने का शक हुआ. इसीलिए जूते जांच के लिए रखे गए, जबकि बाकि गहने वापस कर दिए गए.

पाक की नीच हरकत: मां और पत्नी से मराठी में बात नहीं करने दी, चूड़ी-बिंदी भी उतरवाई

पाकिस्तानी मीडिया फैला रहा है झूठ

जूते पाकिस्तान अधिकारियों की कस्टडी में है ऐसे में यह पता लगाया जा रहा है, कि क्या जूतों में लगा मेटालिक ऑब्जेक्ट किसी रिकॉर्डिंग चिप का कैमरा है या कुछ?. पाकिस्तान के मीडिया चैनलों ने भी पाकिस्तान सरकार के इस झूठ और प्रोपेगेंडा फैलाने वाली की खबर को प्रमुखता से चलाना शुरु कर दिया है.

पाकिस्तान के इस नए झूठ पर भारत सरकार के सूत्रों का कहना ये तभी साफ हो गया था जब पाकिस्तान ने काफी मांगे जाने के बाद भी चेतना जाधव के जूते नहीं लौटाए. ऐसा किसी सोची-समझी रणनीति के तहत किया गया है. पाकिस्तानी मीडिया में अब सामने आये झूठे आरोपों से स्पष्ट है कि इसके पीछे मंशा क्या थी. जो कुछ हुआ उसके बाद इसमें कुछ भी चौंकाने वाला नहीं है.

भारत के भारी दबाव की वजह से पाकिस्तान ने कुलभूषण जाधव की मुलाकात उनकी मां और पत्नी से करा तो दी, लेकिन साथ ही हालात ऐसे पैदा कर दिए जिससे उनकी मां और पत्नी तड़पती रहीं.

खबर एबीपी न्यूज़

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *