September 25, 2021
Breaking News

राजनीति में भ्रष्टाचार कम करने चुनावी चन्दा बांड में सरकार का फैसला

राजनीति में भ्रष्टाचार कम करने चुनावी चन्दा बांड में सरकार का फैसला

नई दिल्ली।सरकार ने राजनीति में काले धन के इस्तेमाल को रोकने के लिए सरकार ने महत्वपूर्ण कदम उठाया है। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने मंगलवार को चुनावी बॉन्ड की घोषणा की। आपको बता दें कि बॉन्ड के लिए दानकर्ता को अपनी सारी जानकारी बैंक को देनी होगी, लेकिन बॉन्ड में दानकर्ता की पहचान गुप्त रखी जाएगी।चुनावी बांड में राजनीतिक दल को दान देने वाले के बारे में कोई जानकारी नहीं होगी. ये बांड 1,000 और 10,000 रुपये एक लाख रुपये, 10 लाख रुपये और एक करोड़ रुपये के मूल्य में उपलब्ध होंगे।.इसे राजनीतिक दलों को मिलने वाले चंदे की प्रक्रिया में पारदर्शिता सुनिश्चित करने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम बताया जा रहा है .लोकसभा में इसका उल्लेख करते हुए वित्त मंत्री अरूण जेटली ने कहा कि चुनावी बांड को अंतिम रूप दे दिया गया है और इस व्यवस्था के आरंभ होने से देश में राजनीतिक दलों को मिलने वाले चंदे की पूरी पारदर्शिता आएगी।चुनावी बांड पर नहीं होगा देने वाले का नाम
चुनावी बांड पर देने वाले का नाम नहीं होगा, इसे केवल अधिकृत बैंक खाते के जरिए 15 दिन के भीतर भुनाया जा सकेगा. वित्त मंत्री ने कहा कि ये चुनावी बांड उन्हीं पंजीकृत राजनीतिक दलों को दिए जा सकेंगे जिनको पिछले चुनाव में कम से कम एक फीसदी वोट मिला हो. राजनीतिक दल इन चुनावी बांड को भुना सकेंगे. जेटली ने कहा कि वर्तमान समय में राजनीतिक दलों में ज्यादातर चंदा नकदी में मिलता है और इसमें पारदर्शिता ना के बराबर होती है, लेकिन चुनावी बांड की व्यवस्था से काफी हद तक पारदर्शिता आएगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *