October 19, 2021
Breaking News

छग सरकार आदिवासी विरोधी,भू-राजस्व संशोधन विधेयक आदिवासियों के साथ छलावा:पवन अग्रवाल

छग सरकार आदिवासी विरोधी,भू-राजस्व संशोधन विधेयक आदिवासियों के साथ छलावा:पवन अग्रवाल

हरितछत्तीसगढ़ जशपुर। छत्तीसगढ़ भू-राजस्व संशोधन विधेयक पर कांग्रेस आक्रामक होती नजर आ रही है जशपुर में भी कांग्रेस ने इस विधेयक के खिलाफ आवाज उठाते हुवे इसे आदिवासियों के साथ छलावा बताकर छग सरकार के खिलाफ तीखे हमले करते हुवे आंदोलन की तैयारी शुरू कर दी है जशपुर कांग्रेस जिलाध्यक्ष पवन अग्रवाल ने छग सरकार को आदिवासी विरोधी बताते हुवे कहा कि भू-राजस्व संहिता में संशोधन से आदिवासियों कुछ खास फायदा नहीं होने वाला बल्कि इस उद्योगपतियों को होगा फायदा होगा। श्री अग्रवाल ने कहा कि सरकार का यह निर्णय आदिवासियों के हितों पर कुठाराघात हैं तथा आदिवासियों को भूमिहीन करने की सोची समझी साजिश हैं।उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी भू-राजस्व संहिता में हुए संशोधन का विरोध कर रही है श्री अग्रवाल ने कहा कि आदिवासी विरोधी संशोधन से वह दिन दूर नहीं जब जल,जंगल,जमीन के संरक्षक व मालिक आदिवासी वर्ग को बेगाना कर दिया जाएगा।उन्होंने कहा कि आदिवासियों की भूमि ही उनकी अस्मिता व सम्मान का परिचायक है, जिसे सुरक्षित रखने के लिये उसकी खरीदी-ब्रिक्री पर पूर्णतः प्रतिबंध है,जिसे राज्य की भाजपा सरकार ने संशोधन विधेयक के माध्यम से आपसी सहमति के आधार पर खरीदने की छूट प्रदान कर दी है।जिलाध्यक्ष पवन अग्रवाल ने छग सरकार के नियति पर सवाल उठाते हुवे कहा कि सरकार का कहना है कि आदिवासी की जमीन सहमति से केवल सरकारी प्रोजेक्ट के लिये खरीदी जा सकेगी, किन्तु संशोधन विधेयक में “सरकार उपयोग हेतु” ही जमीन खरीदे जाने का कोई उल्लेख नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *