November 29, 2021
Breaking News

किसने रखा अपने  बच्चों का नाम स्वतंत्रता व स्वाधीनता  देशभक्ति का एक जज्बा ऐसा भी  आजादी के पर्व पर पुत्रियों का नाम स्वतंत्रता व स्वाधीनता नाम से गौरवान्वित है परिवार

योगेश थवाईत जशपुर(हरित छत्तीसगढ़) जब बात हो देशभक्ति की तो कुछ कर गुजरने का जज्बा हर किसी का होता है जिले के बगीचा विकासखंड में जन्मे दो बहनों की कहानी भी कुछ ऐसी ही है जिनके पिता ने न केवल उनका नाम स्वतंत्रता व स्वाधीनता  रखा है बल्कि आजादी के पर्व पर अपने पुत्रियों का नामकरण कर उन्होंने देशभक्ति की अद्भुत मिसाल पेश की है
उल्लेखनीय है कि बगीचा विकासखण्ड के अंतर्गत ग्राम बेन्द में निवास करने वाली स्वतंत्रता की कहानी भी आजादी से जुड़ी हुई है.पंन्द्रह अगस्त के दिन जन्मी स्वतंत्रता ने बताया कि उनके पिता स्वर्गीय जैतन यादव ने दोनों बहनों का नाम स्वतंत्रता व स्वाधीनता रखा है.उन्होंने बताया कि उनका जन्म 15 अगस्त 1987 को प्रातः ध्वजारोहण के साथ हुआ था इसलिए उनके पिता ने उनका नाम स्वतंत्रता व उनकी बहन का नाम स्वाधीनता रखा.अपने नाम को लेकर स्वतंत्रता गर्व का अनुभव करती हैं वे बताती है कि उनके पिता में जो देशप्रेम की भावना थी उनका वे सम्मान करती हैं अपने व अपनी बहन के नाम को लेकर उनका परिवार उनसे खुश है.स्वतंत्रता बगीचा के वन परिक्षेत्र में वनरक्षक के पद पर पदस्थ है व उनका परिवार वर्तमान में बगिया के मुसकुटी में निवास करता है..
नाम से जुड़ी है आजादी की यादें
“स्वतंत्रता व स्वाधीनता दोनों बहनों के नाम आजादी के पर्व पर रखे गए हैं जिससे उनकी यादें भी इससे जुड़ी हुई हैं” विभाग में कार्यरत सहकर्मी शाहनवाज हसन बताते है कि स्वतंत्रता अपने नाम को लेकर काफी उत्साहित रहती हैं.कई बार आपसी चर्चा में अपने पिता की यादों को बताते हुए उनकी आंखे नम हो जाया करती हैं.पूरे अंचल में दोनों बहनों के नाम ने देशभक्ति के जज्बे की एक मिसाल पेश की है 
 योगेश थवाइत युवा पत्रकार छत्तीसगढ़ 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *