September 24, 2021
Breaking News

क्या आपको याद है, स्कूल में अपनी टीचर के डॉयलॉग्स,जानिये वो बातें जो अपनी स्कूल की यादें ताज़ा करा देंगी!!

क्या आपको याद है, स्कूल में अपनी टीचर के डॉयलॉग्स,जानिये वो बातें जो अपनी स्कूल की यादें ताज़ा करा देंगी!!

नई दिल्ली। बचपन स्कूल या कॉलेज के दिनों को जब भी हम याद करते हैं तो सबसे पहले हमें अपने साथ पढ़ने वालों दोस्तों और टीचरों की याद आती है। वहीं क्लास में आपके टीचर का आपको डांटना आप कभी नहीं भूलता है। ऐसे कई टीचर हमारी यादों में आज भी ताजा हैं जिनके डांटने के तरीकों को हम कभी भी भूल नहीं पाते हैं।

टीचर के फेवरेट डॉयलॉग्स – स्कूल लाइफ के वो दिन- स्कूल सबकी ज़िदंगी में यूं तो एक ऐसी जगह हुआ करती थी जहां जाते वक्त सभी बच्चे ना जाने की ज़िद करते हैं लेकिन जब स्कूल लाइफ खत्म होती है तो सबसे ज़्यादा हम मिस भी उसे ही करते हैं।

तो आइये जानते हैं ऐसी ही कुछ खास बातें जो तकरीबन हर टीचर कहता है अपनी क्लास में बच्चों से…

तेज बोलो, खाना नहीं खाया है क्या

स्कूल लाइफ यानी की हमारा एक बेस्ट फ्रेंड जो हमारा बेंच पार्टनर भी हुआ करता था, कुछ खास दोस्तों की एक टोली जिसके साथ मिलकर हम दिन भर ऊधम मचाया करते थे, लंच होने से पहले ही खाना खाने की जल्दी, एक फेवरेट टीचर और एक ऐसी टीचर जिनका क्लास हमे बिल्कुल पसंद नहीं आया करता था।

यह मछली बाजार नहीं है क्लास में जब भी शोर होता है तो तकरीबन हर टीचर यही कहता है।

टीचर के फेवरेट डॉयलॉग्स

वैसे टीचर्स की अगर बात की जाएं को कुछ ऐसी बातें हैं या यूं कहा जाएं कि कुछ ऐसे डायलॉग्स हैं जिन्हे लगभग सभी टीचर्स बोलते हैं।

मैं तुम्हें खिड़की से बाहर फेंक दुंगा
आप गलती से भी क्लास के दौरान बोल दीजिए और टीचर की ये धमकी आपको तुरंत सुनायी देगी।

तेज बोलो, खाना नहीं खाया है क्या

आपके लिए आज हम लेकर आए हैं वो ही टीचर के फेवरेट डॉयलॉग्स जिन्हे पढ़कर, आप एक बार फिर भी अपने क्लासरूम में पहुंच जाएंगे।

”’क्या बात है बड़ी हंसी आ रही है, नहीं… नहीं मुझे भी बता दीजिए क्या बात है मै भी हंस लेती हूं थोड़ा”

”कल खाना खाना भूल गए थे तुम, नहाना भूल गए थे, खेलना भूल गए थे….नहीं ना ….तो फिर होमवर्क करना कैसे भूल गए? ”

टीचर के फेवरेट डॉयलॉग्स

– ”इट्स लुकिंग लाइक फिश मार्केट….मछली बाज़ार बना रखा है क्लास को”

– ”एक काम कीजिए, आप लोग पहले बातें कर लीजिए…नहीं…आई एम वेटिंग…जब आपकी बातें खत्म हो जाएं तो बता दीजिए मै पढ़ाना स्टार्ट कर दूंगी। ”

”ये इंग्लिश की क्लास है सो टॉक इन इंग्लिश ओनली”

”हिन्दी की कक्षा में हिन्दी भाषा में ही वार्तालाप करें, एक बार में क्यूं नहीं समझ आता तुम लोगों को”

टीचर के फेवरेट डॉयलॉग्स

”अगर समझ में नहीं आया तो पूछो ना, बट डोन्ट बिहेव लाइक दिस”

ये तो हुए कुछ ऐसे टीचर के फेवरेट डॉयलॉग्स लेकिन उसके बाद कुछ ऐसी बातें भी होती थी जो टीचर्स यूं तो अपने फेवरेट स्टुडेंट की तारीफ करते हुए कहती थी लेकिन बाकी बच्चों के लिए ये बड़ी ही परेशानी वाली बात हुआ करती थी।

– ”’जब मैने कल टेस्ट के लिए बोला था, तो सिर्फ इस एक बच्चे को ही क्यूं याद रहा, आप लोग नहीं याद दिला सकते थे मुझे”

”आप सभी को मैने सेम चीज़ पढ़ाई थी, फिर सिर्फ इसे ही क्यूं याद रहा, इसको मैने अलग से तो नहीं पढ़ाया था”

टीचर के फेवरेट डॉयलॉग्स

तुम्हारा शरीर तो यहां है लेकिन तुम्हारा दिमाग कहीं और है कुछ टीचर की क्लास में आपको हमेशा ब्लैकबोर्ड और टीचर को ही देखना होता है।-

-ये इस क्लास का सबसे बेकार सेक्शन है, बाकी के सेक्शन कहीं अच्छे हैं ये इस क्लास का सबसे बेकार सेक्शन है, बाकी के सेक्शन कहीं अच्छे हैं आप किसी भी क्लास में हो लेकिन आपका सेक्शन हमेशा से सबसे ही खराब है। -अगर तुम्हे पढ़ाई नहीं करनी है तो मेरी क्लास से बाहर जाओ क्लास में चाहे मन लगे या नहीं लगे लेकिन पढ़ाई करनी होगी। -अपने पापा के सिगनेचर इसपर लेकर आओ वरना हम उन्हें स्कूल बुलायेंगे

हमें  यकीन है कि बचपन में अपने स्कूल डेज़ में आपने भी अक्सर अपनी टीचर्स से ये डायलॉग्स सुने होंगे और आज यहां इन बातों को पढ़कर आप भी एक बार फिर से अपने क्लासरूम में पहुंच गए होंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *