September 17, 2021
Breaking News

जशपुर:प्रदेश स्वास्थ्य कर्मचारी संघ पांच सूत्रीय मांग, सामूहिक अवकाश लेकर प्रदर्शन जारी

हरित छत्तीसगढ़ जशपुर //वेतन विसंगती पदोन्नति व रिक्त पदों पर भर्ती सहित अन्य मांगो को लेकर छत्तीसगढ़ प्रदेश स्वास्थ्य कर्मचारी संघ के एक दिवसीय सामूहिक अवकाश का पत्थलगाॅव तहसील में भी व्यापक असर देखने को मिला । विदित हो की छत्तीसगढ़ प्रदेश स्वास्थ्य कर्मचारी संघ अपनी पांच सूत्रीय मांग को लेकर आज एक दिवसीय सामूहिक अवकाश लेकर प्रदर्शन किया जा रहा है, इस दौरान स्वास्थ्य सेवाएं बंद कर दी गई है। इसी क्रम में पत्थलगांव में भी सिविल अस्पताल पत्थलगाॅव सहित सभी 8 प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र किलकिला तमता शेखरपुर लूडेग बागबहार सूरंगपानी कुकर गाँव कोतबा के सभी नियमित तृतीय ओर चतुर्थ श्रेणी के स्वास्थ्य कर्मचारीयों के एक दिवसीय अवकाश लेकर प्रदर्शन जारी है कर्मचारियों के अवकाश में चले जाने से पूरे क्षेत्र में स्वास्थ्य व्यवस्था पूरी तरह चरमरा गयी जिससे लोग परेशान होते नजर आये ।छत्तीसगढ़ प्रदेश स्वास्थ्य कर्मचारी संघ के पत्थलगांव  तहसील अध्यक्ष पवन वैष्णव ने बताया  कि  जनहित को ध्यान में रख कर हमने बार बार सरकार के समक्ष शान्ति पुर्वक अपनी जायज मांगों और समस्याओं को रखा पर सरकार के नकारात्मक रवैया के कारण हमें ऐसा कठोर निर्णय लेना पडा है।10 जनवरी के प्रदर्शन के बाद भी सरकार हमारी नहीं सुनती तो 29 जनवरी से प्रदेश की स्वास्थ्य सेवा पूरी तरह ठप कर दी जाऐगी।उन्होंने कहा की आन्दोलन से जनता को जो भी परेशानी ,क्षति ,या जनहानि होगी उसके लिए सरकार ही पूरी तरह से जिम्मेदार होगी।इसके बाद भी  हमारी मांगो पर सहानुभूति पूर्वक विचार नहीं किया जाता है तो हम 29 जनवरी से अनिश्चित कालीन हड़ताल पर चले जाएंगे जिससे मरीजों को होने वाली परेशानियों के लिए सरकार जिम्मेदार होगी ।विदित हो कि स्वास्थ्य कर्मचारियों के प्रमुख मांगों में प्रदेश के सभी संवर्गों के कर्मचारियों को केन्द्रीय वेतनमान, वेतन विसंगति दूर करने की माँग के अलावा भाजपा सरकार के घोषणा पत्र में चार स्तरीय वेतनमान देने का वादा पूरा कराना प्रमुख है जिसके लिए पिछले दस वर्षों से स्वास्थ्य कर्मचारी संघ ने अपनी विभिन्न मांगों को पूरा कराने और समस्याओं के समाधान के लिए कई बार शान्ति पुर्वक धरना प्रदर्शन कर सरकार का ध्यान आकृष्ट कराया परंतु वर्तमान सरकार द्वारा हर बार झूठा आश्वासन दिया गया।जिससे कर्मचारियों का आक्रोश बढ गया है और वे इस बार पूरी तैयारी के साथ मैदान में उतर चुके हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *