September 17, 2021
Breaking News

जनता की मेहनत-राष्ट्रभक्ति से आदर्श राज्य के रूप में छत्तीसगढ़ ने देश में बनायी पहचान: डॉ. रमन सिंह

स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर मुख्यमंत्री ने प्रदेशवासियों को सम्बोधित किया
राजधानी के पुलिस परेड मैदान में किया ध्वजारोहण

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा है कि जनता की मेहनत, लगन और राष्ट्रभक्ति से छत्तीसगढ़ अपने नये प्रयोगों और जनहितकारी विकास योजनाओं के कारण एक आदर्श राज्य के रूप में पूरे देश में अपनी पहचान बनाने में सफल हुआ है। उन्होंने कहा-मुझे विश्वास है कि हम सब मिलकर तेज गति से राज्य को समृद्ध और खुशहाल बनाने में भी सफल होंगे। मुख्यमंत्री आज सवेरे स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर राजधानी रायपुर में आयोजित राज्य स्तरीय समारोह में जनता को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने समारोह में ध्वजारोहण किया, पुलिस, विशेष सशस्त्र बल, होमगार्ड के जवानों तथा राष्ट्रीय कैडेट कोर (एन.सी.सी.), राष्ट्रीय सेवा योजना और भारत स्काउट्स एवं गाईड्स के विद्यार्थियों की संयुक्त परेड की सलामी ली।
डॉ. सिंह ने पुलिस परेड मैदान में आयोजित समारोह में खुले वाहन में परेड निरीक्षण और आम जनता का अभिवादन करने के बाद समारोह में प्रदेशवासियों के नाम अपना संदेश पढ़ा। उन्होंने अमर शहीदों को याद करते हुए स्वतंत्रता दिवस संदेश में अपने उदबोधन की शुरूआत छत्तीसगढ़ी भाषा में की। मुख्यमंत्री ने कहा -जम्मो संगी-जहुंरिया, सियान-जवान, दाई-बहिनी अउ लइका मन ला सुराजी तिहार के गाड़ा-गाड़ा बधाई। ए पावन बेरा म सबले पहिली अमर सहीद मन ल सुमिरत हंव। जम्मो पुरखा मन ल सरधा-फूल अरपन करत हंव। मुख्यमंत्री ने अपने संदेश में राज्य सरकार की लोकहितैषी योजनाओं और उपलब्धियों पर विशेष रूप से प्रकाश डाला। डॉ. सिंह ने कहा प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की दूरदर्शी सोच और उनके साहसिक निर्णयों के कारण देश में अभूतपूर्व उत्साह, कर्त्तव्य परायणता और नये-नये कीर्तिमान स्थापित करने का शानदार वातावरण बना है।
सभी पांच संभागीय मुख्यालयों में बनेंगे ऑडिटोरियम
मुख्यमंत्री ने कहा – छत्तीसगढ़ के सभी पांच संभागीय मुख्यालयों में सांस्कृतिक, सामुदायिक और शैक्षणिक गतिविधियों के लिए ‘आडिटोरियम’ का निर्माण किया जाएगा। श्रम कल्याण की नई पहल के तहत राज्य में पंडित दीनदयाल उपाध्याय श्रम अन्न सहायता योजना की शुरूआत की जा रही है, जिसमें निर्धारित केन्द्रों पर श्रमिकों को सिर्फ पांच रूपए में गर्म और पका हुआ भोजन दिया जाएगा।

प्रदेश के 43 लाख से ज्यादा किसानों को सॉइल हेल्थ कार्ड
किसान हितैषी योजनाओं की चर्चा करते हुए मुख्यमंत्री ने जनता को बताया – सात दशकों के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है, जब किसानों की आमदनी वर्ष 2022 तक दोगुनी करने के लिए समयबद्ध कार्यक्रम बनाया गया है। इसके अंतर्गत खेतों की मिट्टी के नमूनों के विश्लेषण के लिए 43 लाख से ज्यादा किसानों को ‘सॉइल हेल्थ कार्ड’ दिए गए हैं।  जैविक खेती को बढ़ावा देने के लिए पांच जिलों का चयन किया गया है और 22 जिलों के एक-एक विकासखंड को भी इसके लिए चुना गया है। स्वतंत्रता दिवस संदेश में मुख्यमंत्री ने सबसे पहले उन अमर शहीदों को श्रद्धांजलि दी, जिन्होंने मातृभूमि की रक्षा को अपना सबसे बड़ा कर्त्तव्य समझा और देशवासियों का भविष्य संवारने के लिए अपने प्राण न्यौछावर कर दिए। डॉ. सिंह ने उन सभी मनीषियों को भी याद किया जिन्होंने देश के विकास के लिए अपना जीवन समर्पित कर दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *