October 18, 2021
Breaking News

निजी स्कूलों के मनमानी के खिलाफ अभाविप का विरोध बरकरार

निजी स्कूलों के मनमानी के खिलाफ अभाविप का विरोध बरकरार

क्षेत्र में निजी मिशनरी स्कुलो में महापुरुषों की तस्वीर नही होना चर्चा का विषय

अभाविप को मिल रहा है पालको का समर्थन

सभी धर्मों का करते हैं सम्मान , पर नही सहेंगे महापुरुषों का अपमान : एबीवीपी

जगदलपुर/ भानपुरी- अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने भानपुरी इलाके में मिशनरी संस्था द्वारा संचालित निजी स्कूलों में लगातार विरोध से क्षेत्र में चर्चा का विषय बना है , ज्ञात हो कि अभाविप ने पिछले दिनों स्कुलो में माँ सरस्वती व अन्य महापुरुषों की तस्वीर नही होने से स्कूल पँहुच कर विरोध करते हुए लिखित अल्टीमेटम दिया था, इसी क्रम में बुधवार को बस्तर विख के सोनारपाल देवड़ा स्थित विद्या ज्योति स्कूल पँहुच कर महापुरुषों की तस्वीर नही होने से नाराज पदाधिकारीयो ने 5 दिनों का समयावधि में तस्वीरें नही लगने से स्कूल घेराव करने की चेतावनी दी है।
अभाविप कार्यकत्ताओं ने विद्या ज्योति स्कूल संचालक पर वार्षिकोत्सव के नाम फीस वसूलने का आरोप भी लगाया है, स्कूल संचालक का कहना ही कि इस सम्बंध में पालको की बैठक बुलाई गई थी, लेकिन शांला प्रबन्धन समिति के सदस्यों ने फीस तय करने समन्धित कोई फैसला तय नहीं होने की बात कही है।
अभाविप के नगर मंत्री जागेश्वर कश्यप ने कहा कि क्षेत्र में मिशनरी संचालित सभी स्कूलों में किसी भी महापुरुषों की तस्वीर नही है ,केवल ईसाई मान्यता की तस्वीर लगाइ गई है, जब तक सभी स्कूलों में ज्ञान की देवी सरस्वती व हमारे महापुरुषों की तस्वीरे नही लगेगी विरोध जारी रहेगा ।

अभाविप के प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य कमलेश दीवान ने कहा कि हमारा उद्देश्य किसी संस्था के खिलाफ विरोध करना या भ्रम फैलाना नही हैं , स्कूलों में पालक स्वयं जा कर देख सकते हैं, हमारा देश महापुरुषों का सदैव ऋणी रहा है,जिन्होंने समाज और देश के लिए सर्वस्व न्योछावर किया है ऐसे महापुरुषों की तस्वीर शैक्षणिक संस्थानों में न होना उस संस्था की मंशा पर सवाल उठता है इस दौरान एबीवीपी के नगर सह मंत्री लखेश्वर बैध, टिकेश मौर्य, तेजेश्वर पाणिग्रही, रितेश यादव, पितेश्वर बघेल, आसमान, तानसिंह समेत अभाविप कार्यकर्ता उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *