November 30, 2021
Breaking News

हज सब्सिडी पर घमासान, सवालों के घेरे में एयर इंडिया

हज सब्सिडी पर घमासान, सवालों के घेरे में एयर इंडिया

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। हज यात्रा पर मिलने वाली सब्सिडी को खत्म करने को लेकर राजनीतिक घमासान जारी है। कई तरफ से सरकार की इस फैसले की आलोचना हो रही है तो कोई सराहना कर रहा है। वहीं हज के लिए सवारी कराने वाला एयर इंडिया भी सवालों के घेरे में आ गया।

हज के नाम पर बढ़ा देता है किराया?

हज यात्रा को लेकर एयर इंडिया पर तरह-तरह का आरोप लगाए जा रहे हैं। खबरों की माने सरकारों के ऊपर हज यात्रा पर सब्सिडी देने की पीछे एयर इंडिया को फायदा पहुंचाने की बात कही जा रही है। तर्क ये है कि इस दौरान एयर इंडिया अपने किराए में बेतहाशा वृद्धि करता है।

इंटरनेशनल फ्लाइट्स करा सकती हैं और सस्ती कीमतों पर यात्रा

कई लोगों का तर्क है कि इस यात्रा का अगर ग्लोबल टेंडर निकाला जाए तो इससे सस्ते में यात्रा कराई जा सकती है। क्योंकि अगर किसी भी एयरलाइंस को पौने दो लाख मुसाफिरों को यात्रा कराने का मौका मिले तो कई कंपनियां इसे सस्ते में मुहैया करा सकती है। लेकिन ये आरोप लग रहा है कि सरकार एयर इंडिया को इस तरह से फायदा पहुंचाती है। वैसे बता दें कि साल 2012 में सर्वोच्च न्यायालय ने फैसला दिया था कि 2022 तक यह सब्सिडी खत्म होनी चाहिए।

आमदनी पर भी सवाल?

वहीं एयर इंडिया को हज से होने वाली आमदनी पर भी सवाल उठाया जा रहा है। 1973 के बाद से हज कराने की जिम्मेदारी एयर इंडिया के महाराजा के पास आ गई थी। इस तरह से सब्सिडी का बहुत बड़ा हिस्सा एयर इंडिया के खाते में जाता था।

इसके बाद क्या होगा एयर इंडिया का?

इस बात पर भी सवाल उठाया जा रहा है कि एयर इंडिया की हालत पहली ही खस्ता है ऐसे में अगर इसतरह से एयर इंडिया से सब्सिडी वापस ली जाएगी तो आगे क्या होगा।

एयर इंडिया को कोई फायदा नहीं

वहीं एयर इंडिया के एक अधिकारियों का कहना है कि एयर इंडिया को कोई लाभ नहीं मिलता है। इस सब्सिडी की वजह से ही हज यात्रियों को सस्ते टिकट उपलब्ध कराए जाते हैं। साथ ही मक्का से विमान को खाली लौटना पड़ता है, जिसे लोग नहीं समझते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *